कोरोना, कोरोना वायरस और COVID-19 या नोवेल कोरोना सुनते-सुनते अगर आप ऊब गये हैं तो थोड़ा इधर भी ध्यान दें। इससे आपके मन को सुकून तो मिलेगा ही, आपके ज्ञान में भी वृद्धि होगी। फणीश्वर नाथ रेणु के बारे में यह लेख आपके साहित्यिक मिजाज को पसंद आयेगा।

कोरोना और COVID-19 सेे ऊब गये हों तो रेणु को जरूर पढ़ लें

कोरोना, कोरोना वायरस और COVID-19 या नोवेल कोरोना सुनते-सुनते अगर आप ऊब गये हैं तो थोड़ा फणीश्वर नाथ रेणु के बारे में भी पढ़...
कोरोना, कोरोना वायरस और COVID-19 या नोवेल कोरोना सुनते-सुनते अगर आप ऊब गये हैं तो थोड़ा इधर भी ध्यान दें। इससे आपके मन को सुकून तो मिलेगा ही, आपके ज्ञान में भी वृद्धि होगी। फणीश्वर नाथ रेणु के बारे में यह लेख आपके साहित्यिक मिजाज को पसंद आयेगा।

फणीश्वरनाथ रेणु से जेपी आंदोलन के दौरान हुई बातचीत के अंश

सुरेंद्र किशोर फणीश्वरनाथ रेणु से जेपी आंदोलन (1974) के दौरान उनकी जेल यात्रा से लौटने के बाद ‘प्रतिपक्ष’ के लिए मैंने लंबी बातचीत की...
कोरोना, कोरोना वायरस और COVID-19 या नोवेल कोरोना सुनते-सुनते अगर आप ऊब गये हैं तो थोड़ा इधर भी ध्यान दें। इससे आपके मन को सुकून तो मिलेगा ही, आपके ज्ञान में भी वृद्धि होगी। फणीश्वर नाथ रेणु के बारे में यह लेख आपके साहित्यिक मिजाज को पसंद आयेगा।

फणीश्वर नाथ ‘रेणु’ सार्वजनिक उपस्थिति के कलाकार थे

जन्मदिन के अवसर पर फणीश्वर नाथ ‘रेणु’ को याद करते हुए फणीश्वर नाथ ‘रेणु’ पैदायशी कलाकार और किस्सागो तो थे ही, वैसे ही पैदायशी आंदोलनकारी...
कविता अखबारी दायित्व नहीं निभाती जिससे उसे सामयिकता की कसौटी पर परखा जाय

कविता अखबारी दायित्व नहीं निभाती जिससे उसे सामयिकता की कसौटी पर परखा जाय

कोर्ट भला कविता के रुप में दी गई गवाही मानता है क्या ? रविकेश मिश्रा पटना: कविता की गवाही भला कोर्ट क्यों माने ? कविता...

साहित्यिक सौंदर्यता के साथ-साथ वो फिल्मी हिरोइन से भी अधिक खूबसूरत थीं

साहित्य की अप्रतीम शख्यियत अमृता जयंती पर विशेष नवीन शर्मा वैसे तो अमृता प्रीतम पंजाबी लेखिका हैं लेकिन हिंदी भाषाके पाठकों में भी वे खासी...

बूचड़खाने में काम करके कार्निलुइस कैसे बने पत्रकार, पढ़िये ‘निराला’ के इस लेख में

पेशे से पत्रकार हैं और आदिवासी विषयों पर रिपोर्टिंग करते हैं रांची: कल मैं कार्निलुइस मिंज को सुन रहा था। उम्र के हिसाब से कार्निलुइस...
प्रतीकात्मक तस्वीर

लिंचिंग………………………………………………………………….

असगर वजाहत बूढ़ी औरत को जब यह बताया गया कि उसके पोते सलीम की 'लिंचिंग' हो गई है तो उसकी समझ में कुछ न...
जैनेन्द्र कुमार

जैनेन्द्र कुमार की जीवनी : अनासक्त आस्तिक 

प्रेमकुमार मणि  मैं जब युवा था, तब प्रेमचंद और जैनेन्द्र को लेकर मेरे मन में कभी कभार उधेड़-बुन होता था। प्रश्न उठता था कि...

रहिमन पानी राखिए……………ः रमेश चंद्र की कहानी

रहिमन पानी राखिए..! यह रमेश चंद्र की कहानी का शीर्षक है। शिक्षा महकमे के अधिकारी रमेश चंद्र ग्रामीण परिवेश से आते हैं। उनकी रचनाओं...
कृष्ण बिहारी मिश्र (दायें) के साथ लेखक निराला

जब हिंदी के कमर एतना नाजुक बा, त ओकरा टूटिये जाये में भलाई बा

बुढ़उती, भोजपुरी और गांधी जी के बारे में कृष्ण बिहारी मिश्र की बेबाक बतकही  निराला केहू कहल कि भोजपुरी आठवां अनुसूची में शामिल हो जाई...
- Advertisement -

POPULAR POSTS

- Advertisement -

MOST COMMENTED

मुजफ्फरपुर बालिका गृह कांडः CBI ने हाईकोर्ट को सौंपी रिपोर्ट

पटना। मुजफ्फरपुर बालिका गृह में लड़कियों से रेप मामले में सीबीआई ने आज पटना हाईकोर्ट में मुहरबंद लिफाफे में प्रगति रिपोर्ट जमा की। सीबीआई के...