गोपालगंज के विधायक के बथान के बाहर मिलीं शराब की खाली बोतलें

0
133
बथान के बाहर खाली पड़ी शराब की बोतलें

गोपालगंज। गोपालगंज के भाजपा विधायक सुभाष सिंह के ख्वाजेपुर स्थित बथान (घर से अलग पुरुषों के रहने की जगह) परिसर में प्रशासन ने छापेमारी की। छापेमारी में बिखरी हुई शराब की कई बोतलें जब्त की गयी हैं। विधायक के भाई के द्वारा शहर में विदेशी शराब की खेप डिलीवरी करने का भी खुलासा हुआ है। छापेमारी का नेतृत्व एसडीओ वर्षा सिंह व उत्पाद अधीक्षक प्रियरंजन ने की।

यह भी पढ़ेंः बिहार के मुजफ्फरपुर में 5 करोड़ का सोना व नकदी ले भागे बदमाश

- Advertisement -

विधायक के बथान की घंटों तलाशी ली गयी, जहां से शराब तो नहीं मिली, लेकिन शराब की खाली बोतलें बिखरी मिलीं। छापेमारी के दौरान वहां मौजूद लोगों ने उक्त स्थल को विधायक का बथान बताया। विधायक के भाई शिवजी सिंह व लवजी सिंह के खिलाफ उत्पाद विभाग प्राथमिकी दर्ज करने की कार्रवाई में जुटा है।

यह भी पढ़ेंः बिहार-झारखंड से गहरा रिश्ता रहा प्रतिभा पुंज दीप्ति नवल का

यह करवाई उस समय की गयी, जब नगर थाना के हजियापुर स्थित एक गुमटी में विकलांग विनोद यादव द्वारा शराब बेचने की सूचना पर डीएम अनिमेष कुमार पराशर के आदेश पर मंगलवार की देर रात एसडीओ वर्षा सिंह, उत्पाद अधीक्षक प्रियरंजन की टीम ने छापेमारी की। इस दौरान विनोद यादव को शराब बेचते पकड़ा गया। मौके से शराब पीने वाले मुन्ना सिंह को गिरफ्तार किया गया। शराब बेच रहे विनोद सिंह  के घर पर छापेमारी की गयी, जहां से 79 बोतल यूपी निर्मित क्रेजी रोमियो व ब्लू इंपीरियल शराब बरामद की गयी। शराब कारोबारी की निशानदेही पर छापेमारी टीम उसे साथ लेकर डिलीवरी कराने वाले की तलाश में खवाजेपुर पहुंची।

यह भी पढ़ेंः बाप ने 10 लाख रंगदारी नहीं दी तो 13 साल के बेटे को मार डाला

गिरफ्तार दोनों के बताने पर जादोपुर थाने के ख्वाजेपुर में अधिकारी जब पहुंचे तो पता चला कि वह बथान भाजपा विधायक का है। मौजूद लोगों ने बथान  को विधायक का बताया। एसडीएम वर्षा सिंह ने बताया कि बथान के परिसर में 50 से अधिक शराब की खाली बोतलें बरामद की गयीं। गिरफ्तार कारोबारी विनोद यादव ने शराब डिलीवर कराने वाले को विधायक का भाई बताया। बयान दर्ज करते हुए प्राथमिकी दर्ज की जा रही है।

यह भी पढ़ेंः वैशाली में बनेगा 300 करोड़ से बुद्ध संग्रहालय व स्मृति स्तूपः मोदी

छापेमारी के दौरान उत्पाद विभाग के अधिकारी ने बताया कि गंडक नदी के रास्ते से शराब की खेप मंगा कर कारोबारियों को डिलीवर की जाती है। उत्पाद विभाग के अधिकारी मामले की जांच कर रहे हैं।

यह भी पढ़ेंः रोहतास में हादसे में दो युवकों की मौत हो गयी, फाइनेंस कर्मियों से लूट

इस संबंध में विधायक का कहना था कि एसडीओ व उत्पाद विभाग की टीम द्वारा मंगलवार की रात हमारे ख्वाजेपुर स्थित बथान पर जांच की थी। बथान की तलाशी ली गयी, जिसमें कुछ भी बरामद नहीं हुआ। बथान के पीछे नदी में बाढ़ के दौरान बह कर आयी शराब की प्लास्टिक की बोतलें मिली हैं। खरही में से बोतलें बारामद हुई हैं। बथान में रात में कोई नहीं रहता है। बथान  के परिसर में अक्सर बारात ठहरती है। किसी बाराती ने शराब पीकर बोतल फेंक दी होगी। उन्होंने कहा कि प्रशासन की यह कार्रवाई राजनीतिक साजिश के तहत की गयी है।

- Advertisement -