नवनियुक्त दारोगा अभ्यर्थियों का कोचिंग संस्थान में हुआ अभिनंदन

0
264

पटना। वेद और कुरान के ज्ञाता तथा ख्यातिप्राप्त इतिहासविद चर्चित शिक्षक गुरु डॉ. एम रहमान के अदम्या अदिति गुरूकुल नया टोला गोपाल मार्केट में बिहार दारोगा परीक्षा 2019 में अंतिम रूप से चयनित अभ्यार्थियों का सम्मान समारोह आयोजित किया गया। इसमें 500 से ज्यादा उपस्थित अंतिम रूप से चयनित दरोगा अभ्यार्थियों को गुरु डॉ. एम रहमान ने सम्मानित किया।

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि इस बार कुल परीक्षाफल में जितने भी छात्र सफल हुए हैं, वे सभी उनके गुरुकुल में किसी न किसी रूप से जुड़े हुए थे। 1500 से ज्यादा छात्रों ने नियमित रूप से क्लास रूम में तैयारी की, जबकि अंतिम रूप से चयनित सभी छात्र-छात्राओं ने उनके यहां टेस्ट सीरीज में भाग लिया।

- Advertisement -

गरीब छात्रों से महज 11रुपये की गुरूदक्षिणा ली गई। इस अवसर पर डॉ. रहमान ने बताया कि

बिहार दारोगा में नियुक्त 1665  अपने बच्चो की कामयाबी को देख कर अद्म्या अदिति गुरुकुल गर्व महसूस कर रहा है। मेरा उद्देश्य हर गरीब, अनाथ, असहाय बच्चों को सफलता दिलाने का है, जो कि मैं वर्षो से करता आ रहा हूं तथा जब तक जिंदा रहूँगा, करता रहूंगा। आज बच्चों को सफल देख गर्व हो रहा है। इन बच्चों ने इस सच्चाई को प्रमाणित कर दिया संघर्ष से इंसान जो चाहे हासिल कर सकता है। बस उसमें पागलपन जैसा जुनून होना चाहिए।

उन्होंने कहा कि कुछ भी हासिल करने के लिए जुनून होना चाहिए। जो बच्चे गरीब हैं, उन्होंने सफलता को अंजाम दिया है। उन्होंने यह सिद्ध कर दिया कि गरीबी का विकल्प लाचारी नहीं, बल्कि कामयाबी है। इंसान चाहे गरीब ही क्यों न हो, अगर उसके पास जुनून है तो वह कुछ भी कर सकता है।

मंजिल पाने का जुनून हो तो आँखों से लहू बन कर टपकता है। इस बात को चरितार्थ करते हुए अदम्या अदिति गुरुकुल के बच्चों ने जिस तरह सफलता को अंजाम दिया, गुरुकुल उन सभी पर गर्व महसूस कर रहा है। साथ ही साथ यह आशीर्वाद देता है कि आप दारोगा ज्वाइन करने के बाद अपने कर्तव्यों को ईमानदारी एवं लगन से निभायें। बेईमान को बेल नहीं तथा ईमानदार को जेल नहीं- को हमेशा चरितार्थ करें। आप की जहाँ भी पोस्टिंग रहे, वहाँ के लोग आप पर गर्व करें। जिससे कि आपका एवं गुरुकुल का मान सम्मान बढ़े। बिहार के कोने-कोने तक गुरुकुल की विचारधारा को बच्चा-बच्चा जाने।

आयोजित सम्मान समारोह में पटना कॉलेज के प्राचार्य डा. रामाशंकर आर्य, आदित्य गुरुकुल के शिक्षक शशि कुमार सिंह, अमरजीत, कुणाल फर्स्ट कुणाल सेकंड, सुबोध कुमार मिश्रा, शशांक शेखर, डॉ राजकुमार सिंह, अनूप नारायण सिंह, निशु गुप्ता समेत कई गण्यमान जन उपस्थित थे। अदम्या आदिति गुरुकुल, एम सिविल सर्विसेज के निदेशक संस्थान के निदेशक मुन्ना जी ने आगत अतिथियों का पुष्प गुच्छ देकर स्वागत किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि गरीबी का विकल्प सिर्फ और सिर्फ सफलता ही हो सकती है। गुरु रहमान के नेतृत्व में संस्थान का यह अभियान आगे भी पूरी ईमानदारी से जारी रहेगा।

यह भी पढ़ेंः अब पटना वालों को कार की तरह भाड़े पर मिलेगी ड्राइवर समेत बाइक

- Advertisement -