Mayawati ने कहा, अटल जी की मौत को भुनाने में लगी है BJP

0
213

लखनऊ। बसपा सुप्रीमो मायावती ने केंद्र की भाजपा सरकार को निशाने पर लिया औक कहा कि लोकसभा चुनाव नजदीक आने के साथ ही BJP जनता का ध्यान बंटाने के लिए नए-नए नुस्खे अपना रही है। मायावती का गुस्सा इतना अधिक दिखा कि उन्होंने पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी तक को नहीं बख्शा। उन्होंने कहा कि अटलजी की मौत को भी भाजपा भुनाने से बाज नहीं आ रही है। मायावती आज प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित कर रही थीं।

यह भी पढ़ेंः प्रशांत किशोर जदयू में शामिल, एनडीए को मजबूत करेंगे

- Advertisement -

मायावती ने कहा कि अटल जी के जीते जी तो भाजपा ने कभी उनके पदचिह्नों पर चलने की कोशिश नहीं की, पर अब उनकी मौत को भुनाने की कोशिश कर रही है। बसपा सुप्रीमो ने भाजपा पर OBC व SC-ST वर्ग से भेदभाव करने का आरोप लगाया। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार खाली पड़े पदों पर भर्तियां नहीं कर रही। बस महापुरुषों का नाम लेकर युवाओं को बहलाने का प्रयास कर रही है। इसे लेकर जनता में भाजपा के प्रति भारी नाराजगी है। उन्होंने कहा कि 2 अप्रैल को SC-ST एक्ट को लेकर हुए भारत बंद में प्रदर्शन कर रहे अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति के युवाओं को जेल में डाल दिया गया। इससे भाजपा का पिछड़ा व दलित विरोधी चेहरा ही सामने आया है।

यह भी पढ़ेंः बिहार की पॉलिटिक्स पर प्रेमकुमार मणि की बेबाक टिप्पणी

मायावती ने कहा कि भाजपा के लोग दोहरे चालचरित्र वाले लोग हैं। इनकी कथनी व करनी में बहुत अंतर है। इसलिए इन पर भरोसा करना अपने ही पैरों पर कुल्हाड़ी मारने जैसी बात है। वहीं, भाजपा द्वारा दलित शब्द के प्रयोग पर आपत्ति दर्ज कराने पर मायावती ने कहा कि हमारे संविधान में हमारे देश का नाम भारत है, पर आरएसएस व भाजपा के लोग इसे हिंदुस्तान भी कहते हैं। जब उन्हें देश को हिंदुस्तान कहने से आपत्ति नहीं है तो अनुसूचित जाति व जनजाति के लोगों को दलित कहने से क्यों शिकायत है। जबकि आम बोलचाल की भाषा में एससी-एसटी वर्ग के लिए दलित शब्द का ही इस्तेमाल किया जाता है।

- Advertisement -