बेगूसराय में अपराधियों पर आफत, मुठभेड़ में सुमंता समेत 3 ढेर

0
608
  • कारबाइन, दो पिस्टल, दर्जनों राउंड गोली बरामद, सर्च अभियान जारी
  • लूट, हत्या, रंगदारी समेत दर्जनों मामलों में थे सभी अपराधी वांछित

बेगूसराय बिहार के बेगूसराय जिला के चेरिया बरियारपुर थाना क्षेत्र में पुलिस की अपराधियों के साथ बड़ी मुठभेड़ हुई है, जिसमें जिला के टॉप टेन अपराधियों में शामिल सुमन्ता समेत तीन अपराधी मारे गए हैं। एसपी अवकाश कुमार को सूचना मिली थी चेरिया बरियारपुर थाना क्षेत्र के मेहदा शाहपुर पंचायत स्थित मुसहरी बोन बहियार में जिला के कुख्यात अपराधी किसी बड़े अपराध को अंजाम देने के लिए जुटे हुए हैं। उसके बाद पुलिस ने बहियार को चारों ओर से घेर लिया। गाछी के समीप पुलिस को देखते ही अपराधियों ने गोली चलानी शुरू कर दी। फिर दोनों तरफ से एक घंटे से अधिक समय तक रुक-रुक कर गोलीबारी होती रही। गोलीबारी में जिला के टॉप टेन अपराधियों में शुमार नगर थाना क्षेत्र निवासी सुमन्ता, मुफसिल थाना क्षेत्र निवासी रामबली सहनी उर्फ चिरैया एवं धर्मा मारे गये।

एसपी ने बताया कि बलिराम सहनी नावकोठी प्रखंड के बगरस क्षेत्र का है, परंतु उसके पास से प्राप्त आधार कार्ड में कलकत्ता का एड्रेस है। इसकी पड़ताल की जा रही है। वहीं पुलिस ने घटना स्थल से एक कारबाइन, दो पिस्टल व दर्जनों राउंड गोलियां भी बरामद की गयी हैं। फिलहाल इलाके को चारों तरफ से सील कर दिया गया है। किसी को भी जाने नहीं दिया जा रहा है।

- Advertisement -

एसपी अवकाश कुमार एवं एएसपी (अभियान) अमृतेश कुमार के नेतृत्व में बड़ी संख्या में पुलिस बल छापेमारी कर रहा है। बताया जा रहा है कि पुलिस को कुछ आधुनिक हथियार भी मिले हैं। पुलिस को आशंका है कि कुछ अपराधी और छुपे हुए हैं। विदित हो कि उक्त तीनों कुख्यात अपराधियों के खिलाफ विभिन्न थानों में हत्या, लूट, रंगदारी के दर्जनों मामले दर्ज थे।

एसपी ने किया थाना का निरीक्षण

पुलिस अधीक्षक अवकाश कुमार ने पूर्व निर्धारित का कार्यक्रम के तहत साहेबपुर कमाल थाने का निरीक्षण किया और थाना कर्मचारी एसआई, एएसआई से परिचय किया। जब अवकाश कुमार थाना पहुंचे तो उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। उसके बाद उन्होंने थाना के अंदर प्रवेश किया। इस दौरान उन्होंने कई रजिस्टर और अपराधियों की सूची को देखा। हिट लिस्ट में पाए गए अपराधियों को उन्होंने जल्द से जल्द गिरफ्तार करने का आदेश दिया। वह लगभग 25 मिनट तक थाना का अवलोकन करते रहे। इस दौरान उन्होंने थाना अध्यक्ष को अवैध रूप से हो रहे क्षेत्र में शराब बिक्री पर लगाम लगाने का भी निर्देश दिया। जब तक पुलिस अधीक्षक थाना क्षेत्र में रहे, तब तक अधिकारी और कर्मचारियों में अफरातफरी मची रही। इस मौके पर एएसआई विपिन यादव, दिनेश सिंह, थाना अध्यक्ष रितेश कुमार रतन, पुलिस निरीक्षक विनय राम, ओंकार नाथ झारखंड, एसआई राजकिशोर सहित अन्य पुलिसकर्मी उपस्थित थे।

यह भी पढ़ेंः बेगूसराय में बेलगाम हुए अपराधी, दवा दुकानदार की हत्या

- Advertisement -