गोलियों की गड़गड़ाहट से थर्राया रोहतास का बरुना गांव

0
511

दर्जनों राउंड फायरिंग में कई मामलों का नामजद जोत राय मारा गया

सासाराम (रोहतास)। बिक्रमगंज थानांतर्गत बरुना गांव में बुधवार को शाम 6 बजे अचानक बंदूकें गरजने लगीं। लोग जब तक समझ पाते कि क्या हो गया, तब तक कई मामलों के आरोपित जोत राय उर्फ नागेंद्र को गोली लग गई। उसे आनन-फानन में करुणा अस्पताल लाया गया, जहां उसे मृत घोषित कर दिया गया। उधर नवादा जिले में रजौली थाना क्षेत्र के जमुगांय नदी समीप से जब्त 55 बोरा खाद्यान्न को लेकर अगले दिन जांच पूरी करने पर प्राथमिकी दर्ज करायी गई है।

सासाराम से मिली खबर के मुताबिक जब बंदूकों का गरजना बन्द नहीं हुआ तो पुलिस मौके पर पहुँची। पुलिस की मौजूदगी होने के बाद बंदूकें शांत हुईं। तब तक दर्जनों राउण्ड गोली चल चुकी थी। घटना को ले गांव में गहरा तनाव है। गोली किसने मारी और क्यों मारी, पुलिस अभी कुछ कहने की स्थिति में नहीं हैं। इतना तय माना जा रहा है कि यह साधारण कांड नहीं है। इसके लिए पहले से तैयारी की गई थी। यह घटना वर्चस्व को लेकर भी हो सकती है, क्योंकि जोत राय बीते कुछ वर्षों से अपराध की दुनिया में अपनी खूंखार छवि बनाने में मशगूल था। उसके नाम पर हत्या के कई मामले लम्बित हैं। इसको लेकर वह कई बार जेल भी जा चुका था।

- Advertisement -

रजौली में कालबाजारी का खाद्यान्न जब्त, प्राथमिकी दर्ज कराई गई 

उधर नवादा जिले में रजौली थाना क्षेत्र के जमुगांय नदी समीप से एसडीओ के निर्देश पर सीओ व थानाध्यक्ष रजौली के द्वारा 55 बोरा खाद्यान्न लदे पिकअप वैन को जब्त किया था। जब्त करने के अगले दिन जांच पूरी करने पर प्राथमिकी दर्ज करायी गई।

ज्ञात हो कि अनुमंडल पदाधिकारी चंद्रशेखर आजाद के निर्देश पर बीआर 02 जीए 2768 नंबर की पिकअप वैन पर 55 बोरे गेंहूं व चावल की जब्ती की गई थी। यह जब्ती अंचलाधिकारी अरशद अली व थानाध्यक्ष रवि रंजन कुमार के द्वारा की गयी थी। खाद्यान्न सहित जब्त पिकअप वैन व चालक को थाना परिसर के अंदर पुलिस अभिरक्षा में रखा गया था। उसके बाद अनुमंडल पदाधिकारी ने पकड़े गए खाद्यान्न की जांच करने का जिम्मा रजौली एमओ शशिकांत कुमार को दिया गया था।

जब्ती के बाद चालक ब्रह्मदेव यादव ने बताया था कि यह भेलवाटांड से पीडीएस दुकानदार जयशंकर प्रसाद के पुत्र पप्पू साव के द्वारा राजू पंडित उर्फ बाबा की गद्दी पर पहुंचाने की बात कही गयी थी। उसने बताया था कि जयशंकर प्रसाद के पीडीएस दुकान से खाद्यान्न लोड कराया गया था। जांचोपरांत अनुमंडल पदाधिकारी के निर्देश पर बुधवार को एमओ ने लिखित आवेदन थाना में देकर प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है। दर्ज की गई प्राथमिकी में पीडीएस दुकानदार जयशंकर प्रसाद, पिकअप वैन चालक ब्रह्मदेव यादव, वाहन मालिक सह गद्दी मालिक राजू पंडित के साथ पीडीएस दुकानदार के पुत्र पप्पू साव को नामजद किया गया है।

यह भी पढ़ेंः फर्जीवाड़ाः विभूतिपुर के 11, सिघिया के 3, खानपुर के 8 शिक्षकों पर केस

- Advertisement -