मदन मोहन झा को मिली बिहार प्रदेश कांग्रेस की कमान

0
230

पटना। कांग्रेस आलाकमान ने बिहार प्रदेश कांग्रेस की कमान पूर्व मंत्री मदन मोहन झा को सौंपी है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मदन मोहन झा को बिहार प्रदेश कांग्रेस कमेटी का अध्यक्ष मनोनीत किया है। बिहार की कमान बदलने की कवायद पहले से ही चल रही थी। कार्यकारी अध्यक्ष कौकब की बैटी की शादी थी, इसलिए उनके आग्रह पर कुछ दिन के लिए यह फैसला टल गया था।

अशोक चौधरी की विदाई के बाद यह पद कौकब कादरी के प्रभार में चल रहा था। बिहार कांग्रेस को एक पूर्णकालिक अध्यक्ष की तलाश थी। सूत्र बताते हैं कि प्रदेश अध्यक्ष पद की दौड़ में मदन मोहन झा कहीं भी शामिल नहीं थे। उनके नाम की घोषणा होते ही कांग्रेस के वरिष्ठ नेता भौचक्के रग गये।

- Advertisement -

चूंकि मदन मोहन झा की नियुक्ति केंद्रीय कमेटी की अनुशंसा पर राहुल गांधी ने स्वयं की है, इसलिए यह माना जा रहा है कि नये और साफ छवि के मदन मोहन झा के बहाने बिहार के सवर्णों को साधने की यह कांग्रेस की सोची-समझी रणनीति का हिस्सा है। कांग्रेस अपनी इस रणनीति में कितनी सफल हो पाती है, यह आने वाले लोकसभा चुनाव में ही पता चल जाएगा। वैसे मदन मोहन झा के बहाने  कांग्रेस ने बिहार में एक नया प्रयोग किया है। प्रदेश अध्यक्ष बनने की सूचना मिलने के बाद सभी क्षेत्रों से मदन मोहन झा को बधाइयां भी मिलने लगी हैं। सूत्रों के मुताबिक कांग्रेस बिहार में कुछ और नये प्रयोग करने की तैयारी में है। प्रशांत किशोर की तरह राष्ट्रीय स्तर पर रणनीतिकारों की टीम बनायी जा रही है, जिसमें बिहार से भी एक और सवर्ण को शामिल किया जा रहा है। एक-दो दिन में उसकी भी घोषणा हो जायेगी।

माना जा रहा है है कि दलित-पिछड़े वोटरों के लिए मची मारामारी के बीच कांग्रेस सवर्ण वोटरों के अपनी ओर आकर्षित होने की उम्मीद पाले हुए है। सवर्णों की जितनी नाराजगी भाजपीनीत एनडीए से है, उतनी राजद से। अगर सवर्णों को साधने में कांग्रेस कामयाब हो जाती है तो उसका बिहार में फिर आधार मजबूत हो सकता है।

यह भी पढ़ेंः BIHAR : सियासी खीर बन रही या पक रही है खिचड़ी

- Advertisement -