फिल्म की शूटिंग के लिए अनुदान पर विचार करेगी सरकारः मोदी

0
153

पटना। भोजपुरी और हिन्दी फिल्मों के जाने-माने अभिनेता रवि किशन की झारखंड और उत्तर प्रदेश  की तर्ज पर बिहार में भी भोजपुरी फिल्मों की  शूटिंग पर अनुदान देने की मांग पर उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने सरकार की ओर से विचार करने का आश्वासन  दिया। श्री किशन ने उपमुख्यमंत्री से उनके सरकारी आवास पर मिल कर बताया कि फिल्म की पूरी शूटिंग राज्य के अंदर करने पर झारखंड सरकार शूटिंग के कुल खर्च का 30 प्रतिशत और उत्तर प्रदेश  सरकार 40 प्रतिशत निर्माताओं को अनुदान देती हैं। एक साल में क्षेत्रीय फिल्मों में भोजपुरी की 80 से 90 फिल्में बनती हैं, जिनके सर्वाधिक दर्शक बिहार और यूपी में ही हैं। उन्होंने उपमुख्यमंत्री से आग्रह किया कि बिहार सरकार को अनुदान पर विचार करना चाहिए। श्री किशन ने बताया कि किसी फिल्म की शूटिंग के दौरान सौ-डेढ़ सौ लोगों की पूरी टीम उस स्थान पर महीनों रहती है। इसका लाभ जहां होटल, रेस्तरां, परिवहन व्यवसाय को मिलता है, वहीं स्थानीय लोगों को रोजगार भी उपलब्ध होता है। बदले माहौल में फिल्म शूटिंग की बिहार में काफी संभावना है।

श्री मोदी ने कहा कि 2005 में एनडीए की सरकार बनने के बाद मल्टीप्लेक्स में 1 करोड़ तक निवेश करने वालों को 3 वर्षों तक कर में छूट दी गयी, जिससे उन्हें काफी बढ़ावा मिला। फिल्म उद्योग को ध्यान में रखकर राज्य सरकार ने फिल्म सिटी बनाने के लिए राजगीर में 20 एकड़ जमीन को चिन्हित कर लिया है।

- Advertisement -

यह भी पढ़ेंः नीतीश ने कबूला, आज की राजनीति में गिरावट आ गयी है

श्री रवि किशन ने बताया कि फिल्म शूटिंग के लिए बिहार में वाल्मीकिनगर, राजगीर स्थित घोड़ा कटोरा, पावापुरी सहित पटना में बिहार म्युजियम, इंटरनेशनल कन्वेंशन सेंटर स्थित ज्ञान भवन और बापू सभागर, सभ्यता द्वार, पटना का रिवर फ्रंट आदि बेहत्तरीन लोकेशन  हैं। इसके अलावा भी कई अन्य स्थल हैं, जो शूटिंग के लिए मुफीद हैं।

यह भी पढ़ेंः भोजपुरी फिल्‍म ‘काहें पिरीतिया लगवल’  की शूटिंग शुरू

- Advertisement -