बिहार के थाने में सेंधमारी, चोरों के हाथ लगा शराब का कार्टन

0
298
प्रतीकात्मक फोटो
प्रतीकात्मक फोटो

पुलिस सोयी रही, थाने के मालखाने से जब्त शराब चुरा ले गये चोर

मोकामा। बिहार में गुरुवार को एक बड़ी और चौंकाने वाली खबर सामने आई। थाने के मालखाने से चोरों ने सेंध काट कर जब्त शराब चुरा लिया। चोरों ने सेंधमारी कर कई कार्टन अंग्रेजी शराब मालखाने से गायब कर दिया। थाना में हुई सेंधमारी की घटना की सूचना मिलते ही प्रशासनिक महकमे में हड़कम्प मच गया।

आपको बता दें कि मोकामा थाना अध्यक्ष द्वारा लगातार शराब की बरामदगी की जा रही थी, जिसे मालखाने में रखा जाता था। लेकिन पीछे की चहारदीवारी सुरक्षित नहीं होने के कारण चोरों को इसकी भनक लग गई और अदम्य साहस का परिचय देते हुए मालखाने की जाली तोड़ कर चोरों ने कई कार्टन शराब गायब कर दिए।

- Advertisement -

जब थानाध्यक्ष राजेश रंजन को इसकी सूचना मिली तो उन्होंने तत्काल करवाई करते हुए दो संदिग्ध नाबालिगों को हिरासत में लिया, जिनसे पूछताछ पर पता चला कि घटना में बच्चों का प्रयोग किया गया है, जबकि किंगपिन कोई और ही है। बच्चों की निशानदेही पर कुछ बोतलें बरामद भी की गई हैं।

मामले की गंभीरता को भांपते हुए ग्रामीण एसपी संजय सिंह और एएसपी लिपि ने खुद संज्ञान लेते हुए मोकामा थाना में हुई सेंधमारी की जाँच की और बताया कि दोनों नाबालिग पुलिस अभिरक्षा से फरार भी हो गए हैं, जिससे मामला और पेचीदा हो गया।

ग्रामीण एसपी ने यह भी कहा कि मालखाने के इंचार्ज को बुला कर मिलान कराया जा रहा है कि कितना कार्टन मिसिंग है तथा अगर पुलिस अधिकारियों से चूक हुई है तो उसकी भी पड़ताल की जा रही है। इसके लिये अलग से रिपोर्ट तैयार की जाएगी तथा जो भी दोषी पाए जाएंगे उन पर विधिसम्मत कार्रवाई की जाएगी।

यह भी पढ़ेंः सीवान में नोट छापने की मशीन पकड़ायी, फिर क्या हुआ?

वहीं ग्रामीण एसपी के अनुसार फरार होने से पहले दोनो बच्चों ने किंगपिन का नाम बताया है, जिसने डरा-धमका कर उनसे थाने में सेंधमारी कराई। उसकी तलाश भी जारी है। बिहार में शराब की तस्करी में इन दिनों बच्चों और महिलाओं का इस्तेमाल किया जा रहा है।

यह भी पढ़ेंः बिहार में शराब बेच रही पुलिस, पकड़े गये दारोगा और जमादार

- Advertisement -