अगले साल तक ब्रिटेन को भी पछाड़ देगा भारतः भाजपा

0
85

मोदी के नेतृत्व में भारतीय अर्थव्यवस्था तेजी से विकास कर रही हैः राजीव रंजन

पटना। प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में भारतीय अर्थव्यवस्था तेजी से विकास कर रही है। तीव्र गति से आगे बढ़ने की बात बताते हुए प्रदेश भाजपा प्रवक्ता सह पूर्व विधायक श्री राजीव रंजन ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी की कुशल नीतियों और मजबूत नेतृत्व में भारत की अर्थव्यवस्था लगातार मजबूत हो रही है।

केंद्र के संकल्प और प्रतिबद्धता से बीते चार वर्षों में भारत दुनिया की छठी सबसे मजबूत अर्थव्यवस्था बन चुका है और जल्द ही ब्रिटेन को पीछे छोड़ पांचवें स्थान पर कब्जा करने वाली है। अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) की हालिया रिपोर्ट के अनुसार दुनिया की प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं में भारतीय अर्थव्यवस्था सबसे तेजी से बढ़ रही है।

- Advertisement -

रिपोर्ट में आईएमएफ ने केंद्र की आर्थिक नीतियों की तारीफ करते हुए यह साफ़ कहा कि अगले साल 2019 में भारत सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था की रैंकिंग में ब्रिटेन से आगे निकल पांचवें स्थान पर आ जाएगी। ज्ञातव्य हो कि वित्त वर्ष 2014-2015 से 2017-2018 के बीच भारत ने 7.3 प्रतिशत की दर से प्रगति की है, वहीं विश्व में भारतीय अर्थव्यवस्था का हिस्सा बढ़ कर 3.2 प्रतिशत हो गया है।

गौर करने वाली बात यह है कि वैश्विक अर्थव्यवस्था में 1960 से 2013 तक भारत का हिस्सा महज 1.8 प्रतिशत ही था। साफ़ है कि मोदी राज में देश की वित्तीय ताकत दिन दूनी, रात चौगुनी की गति से बढ़ रही है। यही वजह है कि आज दुनिया के सभी देश और प्रमुख संस्थान भारत की प्रशंसा कर रहे हैं।

यह भी पढ़ेंः केंद्र के चार वर्षों के शासन में महिलाओं का जीवन बदला: राजीव रंजन 

कांग्रेस पर निशाना साधते हुए श्री रंजन ने कहा कि आज भाजपा के नेतृत्व में केंद्र सरकार जो काम कर रही है। अगर यही सब कांग्रेस ने आजादी के बाद से किए होते तो आज भारत दुनिया का सबसे ताकतवर मुल्क होता, लेकिन वंशवाद और भ्रष्टाचार को अपना राजनीतिक ध्येय मानने वाले कांग्रेस के नेताओं ने हमेशा खुद के स्वार्थ और हित को देश हित से ऊपर रखा। यही वजह है कि आजादी के इतने वर्षों बाद भी भारत की गिनती विकसित नही, बल्कि विकासशील मुल्कों में होती है, लेकिन 2014 के बाद से स्थितियों में क्रांतिकारी परिवर्तन आया है और आने वाले समय में भारत दशा-दिशा में और सुधार आना निश्चित है।

यह भी पढ़ेंः एशिया पैसिफिक में सबसे तेज प्रगति रहा भारत: राजीव रंजन 

- Advertisement -