झारखंड अब विकास के लिए जाना जाता है, भ्रष्टाचार के लिए नहीं

0
160

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने मोरहाबादी में किया झंडोत्तोलन

राँची। 72वें स्वतंत्रता दिवस पर राँची के ऐतिहासिक मोरहाबादी मैदान में झारखण्ड के मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने राष्ट्रीय ध्वज फहराया और सवा तीन करोड़ राज्यवासियों को अपने सम्बोधन में कहा कि बेदाग है हमारी सरकार और झारखण्ड का विकास ही हमारा ध्येय है। एक समय भ्रष्टाचार के लिए जाना जाने वाला राज्य आज विकास के लिये देश के प्रथम चार राज्यों में खड़ा है। आज इसकी ख्याति तेजी से आगे बढ़ते हुए राज्य के रूप में है।

मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में सबसे पहले झारखंडवासियों को स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक बधाई दी। उन्होंने कहा कि आज का दिन हर हिंदुस्तानी के लिए बड़ा ही पवित्र है। आज ही के दिन हमें आजादी मिली थी। हमें ये बात हमेशा याद रखनी है कि ये आजादी हमें यूं ही नहीं मिल गई। इस आजादी को हासिल करने के लिए अनगिनत स्वतंत्रता सेनानियों ने अपने प्राणों की आहुति दी थी । आज उन सभी महापुरुषों को भी याद करने का दिन है।

- Advertisement -

मुख्यमंत्री ने राष्ट्रपिता महात्मा गांधी, सरदार वल्लभ भाई पटेल, नेताजी सुभाष चंद्र बोस, वीर सावरकर और शहीद भगत सिंह के साथ साथ झारखण्ड के वीर सपूतों धरती आबा भगवान बिरसा मुंडा, वीर सिद्धो कान्हों, चांद भैरव , वीर बुधु भगत, नीलांबर-पीतांबर सहित तमाम स्वतंत्रता सेनानियों के प्रति झारखण्ड की सवा तीन करोड़ जनता की ओर से श्रद्धा सुमन अर्पित करते हुये कहा कि आजादी के संघर्ष में नारियों के बलिदान को भी हम भूल नहीं सकते । भारत की महान वीरांगना लक्ष्मीबाई सहित झारखंड की फूलो, झानो के प्रति भी हृदय से नतमस्तक हूं। उन्होंने कहा कि हम अपने नम आंखों से उन तमाम स्वतंत्रता सेनानियों के प्रति और उन अनाम स्वतंत्रता सेनानियों की कुर्बानियों को याद करें।

स्वतंत्रता दिवस का ये पावन पर्व हम झारखण्डवासियों के लिए दोहरी खुशी लेकर आता है। आप सबको पता है कि इन दिनों श्रावणी मेला चल रहा है। भगवान शिव की नगरी देवघर में देवतुल्य श्रद्दालु, मनोकामना लिंग के दर्शन कर जल अर्पण कर रहे हैं । मुझे आपको ये बताते हुए बेहद खुशी हो रही है कि श्रावणी मेले में देश विदेश से आने वाले शिवभक्तों के लिए विश्वस्तरीय इंतजाम किए गये हैं, जिनकी देवतुल्य श्रद्धालुओं द्वारा तारीफ की जा रही है।

उन्होंने कहा कि देश और दुनिया में श्रावणी मेले के आयोजन की जो तारीफ हो रही है, वो किसी एक आदमी या सरकार की प्रशंसा नहीं है, ये तारीफ आप सबकी है, ये झारखण्ड की सवा तीन करोड़ जनता की तारीफ है। ये आपके सहयोग, आपके भरोसे की जीत है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि बात सिर्फ श्रावणी मेले की ही नहीं है, आज के दिन मैं आपको थोड़ा पीछे लेकर जाना चाहता हूं। 28 दिसंबर 2014 को मैनें राज्य के मुख्यसेवक के तौर पर शपथ ली और एक दास के रुप में झारखण्ड की सवा तीन करोड़ जनता की सेवा करनी शुरु की। आपने हमारे लोकप्रिय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी पर भरोसा जताया, उस भरोसे पर खरा उतरने के लिए हम दिन रात काम कर रहे हैं। साढ़े तीन साल पहले की बात अब जब याद आती है तो शुरुआत में लगता था कि कैसे होगा झारखण्ड का विकास। सारी व्यवस्था बिगड़ी हुई थी। सिस्टम बेपटरी हो गया था। देश ही नहीं दुनिया भर में झारखण्ड का जिक्र अगर किसी बात के लिए होता था तो वो था भ्रष्टाचार।

मुख्यमंत्री ने कहा कि हालात बेहद खराब थे लेकिन मैनें इस चुनौती को अवसर के रुप में लिया। हमने ठाना था कि चाहे कुछ भी हो जाए, विकास कार्यों के जरिए झारखण्ड के माथे से ये भ्रष्टाचार रुपी कलंक हटाकर रहेंगे । हमने पहले दिन से ही कार्य शुरु किया ,ये काम आसान नहीं था लेकिन नेक इरादों और बुलंद हौसलों के साथ हम पहले दिन से ही न्यू झारखण्ड के निर्माण में जुट गए। आदरणीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में हमारा एक ही लक्ष्य है, झारखण्ड की सवा तीन करोड़ जनता की सेवा। हमें अपने सवा तीन करोड़ भाई बहनों की जिंदगी में खुशहाली लानी है ,उन्हें समृद्द बनाना है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आप अपने दिल से पूछिए, आज जब आप देश या दुनिया में किसी से झारखण्ड पर बात करते हैं तो वो किस बात पर चर्चा करते हैं। क्या आज भी झारखण्ड का जिक्र आते ही कोई भ्रष्टाचार का नाम लेता है। बिल्कुल नहीं, आज बात होती है झारखण्ड के विकास की। भ्रष्टाचार का जो कलंक झारखण्ड के माथे पर लगा दिया गया था ,आपके सहयोग से हमने उस कलंक को धो दिया है। मैं इस बात का जिक्र नहीं करुंगा कि किस वजह से भ्रष्टाचार का वो कलंक हमारे महान झारखण्ड के माथे पर चिपका दिया गया था या किसकी वजह से झारखण्ड भ्रष्टाचार को लेकर बदनाम हो गया था । लेकिन आज हमने झारखण्ड की छवि को पूरी तरह बदल दिया है। आज झारखण्ड का हर नागरिक गर्व से कहता है-हां, मैं झारखण्डवासी हूं। आज हमारा झारखण्ड बदल रहा है, झारखण्ड की सवा तीन करोड़ जनता मिलकर न्यू झारखण्ड का निर्माण कर रही है।  इसलिए मैं कहता हूं कि जब भी कोई आपको बहकाने की कोशिश करे तो सिर्फ एक काम करिए, साढ़े तीन साल पहले के झारखण्ड और आज के झारखण्ड की तुलना कर लिजिए। फिर कोई भी आपको बहका नहीं सकेगा।

यह भी पढ़ेंः झारखंड के बच्चे-बच्चियां हमारे राज्य के ब्रांड अंबेसडरः रघुवर

- Advertisement -