अगस्त का अंत शुभ रहा लालू परिवार के लिए, राबड़ी-तेजस्वी को बेल

0
223

पटना/ नयी दिल्ली। अगस्त का आखिरी दिन लालू प्रसाद यादव के परिवार के लिए शुभ रहा। अगस्त का आरंभ परेशानियों से शुरू हुआ था। अगस्त में लालू प्रसाद को प्रोविजन बेल नहीं मिली और बीमारी की हालत में कल (30 अगस्त) लालू प्रसाद को सीबीआई कोर्ट में सरेंडर के बाद जेल जाना पड़ा। लेकिन आखिरी दिन (31 अगस्त) लालू की पत्नी राबड़ी देवी और बेटे तेजस्वी को रेलवे होटल टेंडर घोटाले में पटियाला हाउस कोर्ट से बेल मिल गयी।

रेलवे होटल टेंडर घोटाले में पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी, उनके बेटे  प्रतिपक्ष के नेता और पूर्व उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव समेत सभी 14 आरोपियों को जमानत मिल गई। IRCTC घोटाला मामले में राबड़ी देवी और तेजस्वी यादव की पटियाला हाउस कोर्ट में आज पेशी हुई। पेशी के दौरान उनकी बेटी राज्यसभा सदस्य मीसा भारती और उनके पति भी मौजूद थे। कोर्ट में लालू प्रसाद के बारे में भी पूछा गया। कोर्ट में बताया गया कि वे रांची जेल में बंद हैं। कल ही उन्होंने सरेंडर किया है।

- Advertisement -

कोर्ट में पहुंचते ही राबड़ी देवी सबसे आगे वाली सीट पर बैठीं। तेजस्वी उनके बगल में बैठे थे। जमानत मिलने के बाद उन्हें अब जेल नहीं जाना होगा, लेकिन पूछताछ के लिए उन्हें कोर्ट में बुलाया जा सकता है। लालू परिवार के लिए यह बड़ी राहत की बात फिलहाल मानी जा रही है। एक एक लाख रुपये के निजी मुचलके पर उन्हें जमानत मिली है। आरोप पत्र पर संज्ञान लेते हुए 30 जुलाई को ही इस मामले में लालू, राबड़ी, तेजस्वी और अन्य को समन जारी कर पेश होने को कहा गया था। पटियाला हाउस कोर्ट स्थित विशेष न्यायाधीश अरविंद कुमार ने सभी आरोपियों को आज 31 अगस्त को पेश होने का निर्देश दिये थे। उन्होंने इस मामले में दो कंपनियों सहित 14 आरोपियों को समन जारी किया था। राबड़ी और तेजस्वी समेत इन सभी आरोपियों को जमानत मिल गई है।

यह भी पढ़ेंः समस्तीपुरः गार्ड की हत्या कर एक्सिस बैंक के 53 लाख रुपये लूटे

- Advertisement -