NSIT के छात्रों ने जड़ से फसल उखाड़ने का यंत्र डिजायन किया

0
34
NSIT के छात्रों ने फसल को जड़ से उखाड़ने का उपकरण डिजायन किया
NSIT के छात्रों ने फसल को जड़ से उखाड़ने का उपकरण डिजायन किया

PATNA : NSIT के छात्रों ने ऐसा यंत्र डिजायन किया है, जो जड़ से फसल उखाड़ने के काम आएगा। यह किसानों के लिए काफी उपयोगी साबित होगा। नेताजी सुभाष इंस्टीट्यूटूऑफ टेक्नोलॉजी के मैकेनिकल के छात्रों ने यह मशीन डिजायन किया है, जो फसल काटने के समय उसे जड़ से उखाड़ देगा । अभी तक हार्वेस्टिंग के दौरान धान की फसल काटने के बाद  खेतों में पराली बच जाता है, जिसे किसान जला देते हैं। इससे प्रदूषण होता है और खेत की ऊर्वरा क्षमता भी प्रभावित होती है।

एनएसआईटी में हुआ सेमिनार का आयोजन
एनएसआईटी में हुआ सेमिनार का आयोजन

इस यंत्र को डिजायन करनेवाले हैं सौरभ, अंकित, पुष्पंजय और महफूज। इन छात्रों ने पिछले दिनों संस्थान में हुए एक दिवसीय सेमिनार में अपनी मशीन की प्रस्तुति दी और प्रथम पुरस्कार जीता। सेमिनार का विषय था- ‘एप्लीकेशन्स ऑफ इंजीनियरिंग इन बॉयोमेडिकल एंड एग्रीकल्चर।’ इस सेमिनार में बॉयो मेडिकल एंड कृषि क्षेत्र की सहायता करनेवाले इंजीनियरिंग पर चर्चा हुई।

- Advertisement -

सेमिनार में संस्थान के छात्र-छात्राओं  के 16 ग्रुप ने भाग लिया और बॉयो मेडिकल और कृषि क्षेत्र को सहायता करनेवाले इंजीनिरिंग पर प्रस्तुति दी। दूसरा स्थान पानेवाले छात्रों की टीम ने कृषि से संबंधित एप्प बेस्ड डिजायन प्रदर्शित किया। इस टीम में मैकेनिकल और दूसरे विभाग के छात्र थे। दूसरा स्थान पानेवाले टीम में आदित्य, रवि और अंकित शामिल थे। तीसरा स्थान कंप्यूटर साइंस के विद्यार्थियों ने हासिल किया।

इन छात्रों ने प्रस्तुति के माध्यम से बताया कि मेडिकल इंडस्ट्री में इंजीनियरिंग के क्या-क्या एप्लीकेशन हैं। उन्होंने उदाहरण स्वरूप ‘एमआरआई’ के बारे में बताया। सेमिनार में एनएसआईटी की ही पुष्पम सिन्हा ने लेक्चर भी दिया। जिसमें उन्होंने एमआरआई के बारे में बताया। उन्होंने बताया कि कैंसर जैसे रोग से लड़ने में क्या-क्या इंजीनियरिंग एप्लीकेशन हैं। सेमिनार में डीन एकेडमिक अनिकेत दत्त भी मौजूद थे। प्रस्तुति देनेवाले विद्यार्थियों को एनएसआईटी के रजिस्ट्रार कृष्ण मुरारी ने बधाई दी। कहा- ऐसे डिजायन को धरातल पर लाना चाहिए, ताकि देश की एक बड़ी समस्या का समाधान हो सके।

यह भी पढ़ेंः कम्युनिस्ट भी टोना-टोटका, भविष्यवाणी में भरोसा रखते हैं!

- Advertisement -