रघुवर की राय- जो भी दहेज ले या दे, उसका सामाजिक बहिष्कार करें

0
199

रांची। मुख्यमंत्री श्री रघुवर दास ने कहा कि हमारे समाज में दहेज प्रथा जैसी कुरीतियां हैं। इन कुरीतियों के खिलाफ समाज को एकजुट होना होगा। सभी समाज आज यह प्रण लें कि उनके यहां दहेज का लेन-देन नहीं होगा। कन्या का सौदा नहीं होना चाहिए। वह लक्ष्मी है, सृष्टि की जननी है। जो भी दहेज ले या दे, उसका सामाजिक बहिष्कार होना चाहिए। मुख्य मंत्री ने कहा कि हमें समाज के माध्यम से गरीबों को  बराबरी में लाना है। हर समाज अपने आसपास गरीबों के उत्थान के लिए काम करे। इससे समाज में फैली विकृति को दूर किया जा सकेगा। उक्त बातें उन्होंने झारखंड प्रदेश केसरवानी वैश्य महासम्मेलन में कही। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे राज्य में कई जिले ऐसे हैं, जहां पिछड़ों को संविधान में प्रदत्त लाभ नहीं मिल पा रहा है। हमारी सरकार पिछड़ों को उनका अधिकार दिलाने के लिए कृतसंकल्पित है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि समाज के गरीब व्यक्ति को कैसे सरकारी योजनाओं का लाभ दिलाया जा सके, इसके लिए सभी मिलजुल कर काम करें। केसरवानी समाज काफी जागृत समाज है। समाज के गरीब तबके के लोगों को की सूची बनाएं। उन्हें सरकारी योजनाओं से जोड़ें। समाज के युवाओं को कौशल विकास के माध्यम से  प्रशिक्षित कर सरकार उन्हें रोजगार से जोड़ेगी। इससे उनके जीवन स्तर में सुधार आयेगा।

- Advertisement -

मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारे राज्य में कई जिले ऐसे हैं, जहां पिछड़ों को संविधान में प्रदत्त लाभ नहीं मिल पा रहा है। हमारी सरकार पिछड़ों को उनका अधिकार दिलाने के लिए कृतसंकल्पित है। केसरवानी समाज की मांगों को भी पिछड़ा आयोग को भेजें। आयोग द्वारा की गयी संविधान सम्मत सारी अनुशंसा का अक्षरश: पालन किया जायेगा। केसरवानी समाज को उसका हक दिलाया जायेगा। उन्होंने समाज के लोगों से बच्चों को शिक्षा देने का आह्वान करते हुए कहा कि केसरवानी समाज में शत प्रतिशत साक्षरता हो, इसका हमें प्रण लेना चाहिए। हम लड़के या लड़की में भेद न करें। दोनों को पढ़ायें।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने नारा दिया है- सबका साथ सबका विकास। इसी को मूल मंत्र मानकर हमारी सरकार काम कर रही है। देश में झारखंड पहला राज्य है, जहां  महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने की दिशा में सरकार ने एक रुपये में रजिस्ट्री करवाने के  सुविधा दी। इससे महिलाएं संपत्ति की मालकिन बन रही हैं।

यह भी पढ़ेंः झारखंड में 12 जनवरी तक 1 लाख युवाओं को रोजगार

कार्यक्रम में  नगर विकास विभाग के मंत्री श्री सीपी सिंह, हटिया विधायक श्री नवीन जयसवाल, अखिल भारतीय केसरवानी वैश्य महासभा के अध्यक्ष श्री राजीव गुप्ता, अध्यक्षा श्रीमती सुनीता गणेश केसरवानी, तरुण सभा के अध्यक्ष अभिषेक केसरवानी, झारखंड प्रदेश अध्यक्ष प्रोफेसर प्रेम सागर केसरी सहित बड़ी संख्या में गणमान्य व्यक्ति थे।

यह भी पढ़ेंः झारखंड के ओडीएफ गांवों में हर घर नल का जल : मुख्यमंत्री

- Advertisement -