तय तिथि से दो दिन पूर्व ही ओडीएफ घोषित हुआ बेगूसराय

0
209

बेगूसराय। तय तिथि 2 अक्टूबर 2018 से दो दिन पूर्व 30 सितंबर को ही बेगूसराय जिला 100 प्रतिशत एमआईएस इन्ट्री के हिसाब से 100 प्रतिशत कवर हो गया। सरकार द्वारा 2 अक्टूबर को गांधी जयंती के दिन जिला को ओडीएफ होने का लक्ष्य रखा गया था, जो दो दिन पूर्व ही पूरा कर लिया गया। यह जाकारी डीएम राहुल कुमार ने दी। डीएम ने कहा कि 8 अक्टूबर को एक विशेष कार्यक्रम में कुछ लोगों को सम्मानित किया जाएगा।

उन्होंने बताया कि उपलब्धि यह रही कि बेसलाइन सर्वे के हिसाब से 434603 परिवारों को सरकार द्वारा शौचालय सुलभ करा दिया गया है। 2 सितंबर से जब मिशन गरिमा महाअभियान की शुरूआत हुई, तब से लेकर 30 सिंतबर तक कुल 111119 शौचालय का निर्माण किया गया। इसे संभव कर दिखाने के लिए जिले के सभी पदाधिकारी, कर्मी, जनप्रतिनिधि, जनसमूह विगत एक महीने से कड़ी मेहनत और लगन से काम कर रहे थे।

- Advertisement -

डीएम ने बताया कि 8 अक्टूबर को एक विशेष कार्यक्रम में कुछ लोगों को सम्मानित किया जाएगा। उन्होंने कहा कि यह अभियान तब पूर्ण होगा, जब सभी लाभुकों को उनके खाते में 12 हजार प्रोत्साहन राशि उपलब्ध हो जाएगी। उन्होंने सभी बीडीओ को एक सप्ताह अभियान चलाकर भुगतान सुनिश्चित करने को कहा। मिशन गरिमा के अंतर्गत 14643 परिवारों को कुल 17 करोड़ 57 लाख 16 हजार का भुगतान किया जा चुका है। डीएम ने बीडीओ को निर्देदश दिया कि अगले दो-तीन दिन में पंचायत समेत प्रखंडों को भी ओडीएफ घोषित कर दें और सबको प्रमाण-पत्र भी निर्गत कर दें। डीएम ने कहा कि शौचालय निर्माण का लक्ष्य तभी सफल होगा, जब लोग उसका रोजाना उपयोग करें। अगले दो-तीन महीने तक रोको-टोको अभियान चलता रहना चाहिए, जब तक लोगों के व्यवहार में परिर्वतन न हो जाए। इसी क्रम में 15 अक्टूबर को ग्लोबल हैंडवाश डे मनाया जाएगा।

लोहिया स्वच्छ अभियान के तहत सम्मान समारोह आयोजितः स्वच्छ भारत मिशन एवं लोहिया स्वच्छ बिहार अभियान के तहत ग्राम पंचायत राज गौरा 1 को खुले में शौच से मुक्ति पर स्वच्छता उत्सव सह सम्मान समारोह का आयोजन मुखिया जयमाला देवी की अध्यक्षता में हुआ। मुख्य अतिथि के रूप में बीडीओ परमानंद पंडित, विशिष्ट अतिथि के रूप में उपेंद्र कुमार यूनिसेफ के वरिष्ठ अधिकारी तथा उद्घाटन कर्ता के रूप में पूर्व मुखिया हेमंत कुमार शर्मा के द्वारा संयुक्त रूप से दीप प्रज्वलित कर कार्यक्रम का विधिवत शुभारंभ किया गया। समारोह को संबोधित करते हुए बीडीओ परमानंद पंडित ने कहा कि गौरा गांव का इतिहास और विरासत काबिले तारीफ है। यूनिसेफ के उपेंद्र कुमार ने कहा कि आने वाला समाज गांधी के सपनों का समाज होगा। वहीं पूर्व मुखिया हेमंत कुमार ने इस तरह के कार्यों में सक्रिय योगदान देने एवं समाज के विकास में अपनी भागीदारी देने की बातें कही।

यह भी पढ़ेंः बेगूसराय से JNU वाले कन्हैया कुमार होंगे महागठबंधन के उम्मीदवार

- Advertisement -