सड़क दुर्घटना में दूल्हे के भाई समेत दो लोगों की मौत

0
224

छपरा। सारण जिले के परसा थाना क्षेत्र के हरपुर परसा गांव के पास एसएच- 73 पर ट्रक व बाइक के बीच टक्कर हो गयी, जिसमें दो लोगों की मौत हो गयी। घटना बुधवार की रात करीब 11: 00 बजे की है। मरने वाले दोनों परसा थाना क्षेत्र के परसौना गांव के निवासी हैं और दोनों का नाम भी अनिल कुमार साह है।

बताया जाता है कि परसा थाना क्षेत्र के परसौना गांव के निवासी रामानंद साह के पुत्र अवधेश कुमार साह की शादी होने वाली थी। शादी परसा थाना क्षेत्र के अन्याय गांव में तय हुई थी, लेकिन लड़की व लड़का पक्ष की सहमति से मढौरा में स्थित विवाह भवन को शादी समारोह स्थल निर्धारित किया गया था। अवधेश के बड़े भाई अनिल कुमार साह बारात निकलने के बाद अपने मित्र दूसरे अनिल कुमार साह को बाइक पर साथ लेकर घर से चले। इसी बीच हरपुर परसा गांव के पास बाइक को अनियंत्रित ट्रक ने रौंद डाला, जिससे घटना स्थल पर ही दूल्हे के भाई व सत्यनारायण साह के पुत्र अनिल कुमार साह (35 वर्ष) की मौत हो गयी। दूसरे घायल को इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में भर्ती कराया गया और प्राथमिक उपचार के बाद चिकित्सकों ने घायल को बेहतर इलाज के लिए पीएमसीएच पटना रेफर कर दिया। उसकी मौत इलाज के दौरान पीएमसीएच पटना में गुरुवार को हो गयी। इस घटना के बाद से लड़का पक्ष व लड़की पक्ष के लोगों में मातम का माहौल बना हुआ है। सबसे दुखद बात यह है कि सत्यनारायण साह के पुत्र अनिल कुमार साह की मौत के बाद उसका छोटा भाई अवधेश साह बिना विवाह किए ही रात में ही वापस लौट गया। अवधेश की शादी उसके बड़े भाई अनिल कुमार साह की साली से ही होने वाली थी। इस घटना के कारण यह शादी अब पूरी तरह रुक गयी। अब अवधेश की शादी उसके बड़े भाई अनिल कुमार साह की विधवा से ही बाद में कराने की  संभावना है।

- Advertisement -

दूसरा मृतक रामानंद साह का पुत्र अनिल कुमार साह (32 वर्ष)  है। वह शिलांग में रहकर व्यवसाय करता था और इसी शादी समारोह में शामिल होने के लिए कुछ दिनों पहले गांव आया था। दोनों पड़ोसी हैं और दोनों की मौत से परसा गांव में मातम का माहौल बना हुआ है। परसौना गांव के सत्यनारायण साह के घर की महिलाएं रात से ही सुबह में नयी नवेली दुल्हन के स्वागत का सपना संजोयी थीं और सुबह में दुल्हन के बदले दूल्हा के बड़े भाई अनिल कुमार साह की लाश पहुंची। इसके बाद पूरे गांव का माहौल व दृश्य ही बदल गया। सबसे दुखद व विचित्र स्थिति अन्याय गांव की बनी हुई है, जहां की लड़की की शादी होने वाली थी और उसके जीजा की मौत के कारण उसकी शादी रुक गयी।

- Advertisement -