मुजफ्फरपुर दुष्कर्म कांड : समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा का इस्तीफा

0
152

पटना : बिहार के बहुचर्चित मुजफ्फरपुर बालिका गृह रेप कांड में आरोपी ब्रजेश ठाकुर से संबंध उजागर होने के बाद समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा ने इस्ती फा दे दिया है। बालिका गृह में 34 लड़कियों के यौन शोषण मामले के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर द्वारा समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा के पति चंद्रशेखर वर्मा से फोन पर बातचीत होने की बात स्वीकार करने के कुछ ही घंटे के बाद बुधवार को मंजू वर्मा ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को मंत्री पद से अपना इस्तीफा सौंप दिया।

मुख्यमंत्री कार्यालय सूत्रों ने बताया कि मंजू वर्मा ने नीतीश कुमार से मुलाकात की और अपना इस्तीफा पत्र उन्हें सौंप दिया। अपने इस्तीफे के बाद मंजू वर्मा ने प्रेस कांफ्रेस भी किया और कहा कि उनका पति बेकसूर है।

- Advertisement -

पटना में अपने आवास पर पत्रकारों से बातचीत में मंजू वर्मा ने कहा कि उन्होंने किसी भी दबाव में इस्तीफा नहीं दिया है। उन्हें सीबीआई जांच पर पूरा भरोसा है। उनके पति निर्दोष हैं। यह बात जांच में साफ हो जायेगी। जांच रिपोर्ट में उनके पति के निर्दोष साबित होने के बाद वे उस महिला पर मानहानि का मुकदमा करेंगी, जिसने उन पर और उनके पति पर मुजफ्फरपुर कांड में शामिल होने का आरोप लगाया है।

मंजू वर्मा ने कहा कि जिस कॉल डिटेल रिपोर्ट के आधार पर मेरे पति को दोषी ठहराया गया है, उस रिपोर्ट को पब्लिक डोमेन में रखा जाये। साथ ही ब्रजेश ठाकुर का पूरा कॉल डिटेल्स निकाला जाये और उससे जिनकी भी बात हुई है, उन सभी को दोषी माना जाये। इसी कॉल डिटेल से पता भी चल जायेगा कि किन-किन से ब्रजेश ठाकुर की बात होती थी।

इससे पहले मुजफ्फरपुर की एक अदालत में पेशी के लिए आये आरोपी ब्रजेश ठाकुर से जब संवाददाताओं ने उनकी जनवरी से जून महीने की कॉल डिटेल्स में समाज कल्याण मंत्री मंजू वर्मा के पति चंद्रशेखर वर्मा से 17 बार फोन पर बातचीत होने के बारे में पूछा तो ब्रजेश ने उनसे किसी कार्य के बारे में बात होने से इनकार करते हुए यह स्वीकार किया कि उनसे राजनीतिक मुद्दों बात हुई है। विपक्षी दलों ने मांग की थी कि मंजू वर्मा इस मामले में नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दें और उनके पति को गिरफ्तार कर उनसे इस मामले में पूछताछ की जाये।

मंजू वर्मा ने इस पर गत 26 जुलाई को अपने पति की इसमें संलिप्तता से इनकार किया था और उन पर लगाये जा रहे आरोप को आधारहीन बताते हुए कहा था कि आरोप सिद्ध होने पर वे मंत्री पद से इस्तीफा दे देंगी। मंजू ने 26 जुलाई को पत्रकारों को बताया था कि मुजफ्फरपुर बालिका गृह के गिरफ्तार सीपीओ रवि कुमार रौशन की पत्नी द्वारा लगाया गया आरोप निराधार है। आरोप था कि उनके पति चंद्रशेखर वर्मा बालिका गृह में अक्सर जाया करते थे।

यह भी पढ़ेंः नीतीश कुमार किसी भी वक्त मंजू वर्मा से ले सकते हैं  इस्तीफा

- Advertisement -