ताबड़तोड़ बम के धमाकों से थर्राया पटना यूनिवर्सिटी का कैंपस

0
177

पटना। उच्च शिक्षा का स्थान पटना यूनिवर्सिटी कैंपस बीती रात तोबड़तोड़ बम के धमाकों से थर्रा उठा। कैंपस के अंदर एक के बाद एक 15 से 20 बम विस्फोट किये गए। बमबाजी की इस घटना से पूरा इलाका सहम गया। बमबाजी की घटना पटना यूनिवर्सिटी कैंपस के अंदर रानीघाट स्थित हथुआ हॉस्टल के बाहर हुई। इस घटना में पीजी हॉस्टल के छात्रों की संलिप्तता बतायी जा रही है।

मिली जानकारी के अनुसार पटना यूनिवर्सिटी के हथुआ हॉस्टल के बाहर 15-20 बम चले हैं। बीती देर रात 11:30 के करीब इस घटना अंजाम दिया गया। हथुआ होस्टल में रहने वाले छात्रों का आरोप है कि पीजी होस्टल के छात्रों ने इस घटना को अंजाम दिया है। वहीं, पीजी हॉस्टल के छात्र इस बमबाजी का आरोप हथुआ होस्टल के छात्रों पर लगा रहे हैं।

- Advertisement -

बताया जा रहा है कि हथुआ हॉस्टल और पीजी हॉस्टल के लड़कों के बीच बुधवार की शाम कहासुनी हुई थी। गंगा किनारे रानीघाट पर हथुआ हॉस्टल के कुछ छात्र शाम के समय घूमने गए थे। इस दौरान किसी बात पर उनकी झड़प पीजी हॉस्टल के छात्रों से हो गई। उस वक्त बात कहा-सुनी तक होकर रह गई, लेकिन देर रात पीजी हॉस्टल के सीनियर लड़कों ने बमबाजी की घटना से हथुआ हॉस्टल को दहला दिया है।

स्थानीय लोगों की मानें तो बमबाजी शुरू होते ही इसकी सूचना सुल्तानगंज थाने को दे दी गई, लेकिन करीब आधे घंटे बाद भी सुल्तानगंज थाने की पुलिस घटनास्थल पर नहीं पहुंची। इसके बाद पटना के एसएसपी मनु महाराज को इसकी जानकारी दी गई।

मनु महाराज के निर्देश पर यूनिवर्सिटी के आसपास स्थित थानों की पुलिस हथुआ हॉस्टल पहुंची और मामले का जायजा लिया। इस मामले में पुलिस ने दो छात्रों को हिरासत में लिया है।

बताते चले कि पटना यूनिवर्सिटी कैंपस में बमबाजी और मारपीट की घटना को ऩई बात नहीं है। यहां हॉस्टल के छात्रों के बीच बर्चस्व को लेकर हमेशा मारपीट और बमबाजी की घटना होती रहती है।

 

- Advertisement -