आयुष्मान योजना का लाभ 32.11 लाख से अधिक को मिला

0
193

पटना। आयुष्मान भारत योजना का लाभ देश के 32.11 लाख से अधिक को मिला है। गरीब और असहाय लोगों के लिए यह योजना वरदान साबित हो रही है। आयुष्मान भारत योजना से बड़ी संख्या में लोगों को लाभ मिलने के बारे में बताते हुए भाजपा प्रदेश प्रवक्ता सह पूर्व विधायक राजीव रंजन ने कहा कि देश के गरीब गुरबों को 5 लाख सालाना की निःशुल्क चिकित्सा प्रदान करने के उद्देश्य से पिछले साल शुरू की गयी मोदी सरकार की आयुष्मान भारत योजना गरीबों के लिए वरदान साबित हो रही है।

यह भी पढ़ेंः RJD किनारे रह कर भी बिहार में किंग मेकर की भूमिका निभाता रहेगा

- Advertisement -
भाजपा प्रवक्ता राजीव रंजन
भाजपा प्रवक्ता राजीव रंजन

देश भर में इस योजना से लाभ पाने वाले लोगों की संख्या में भी तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। पहले जो लोग महंगे प्राइवेट अस्पतालों में जाने का साहस नहीं कर पाते थे, इस योजना ने वैसे गरीबों में अस्पतालों के बिल के डर को खत्म कर निडर होकर स्वास्थ्य सेवा की मांग करने का आत्मविश्वास जगाया है। मोदी सरकार की इस योजना से अब तक 32.11 लाख से अधिक लोगों को लाभ मिला है, जिसमें बिहार के भी हजारों लोग शामिल हैं।

यह भी पढ़ेंः दोषी लड़की को अदालत की अनोखी सजा, 5 बच्चियों को पढ़ाओ

इस योजना के प्रथम चरण में बिहार से 1.08 करोड़ तथा पूरे देश 10 करोड़ लोगों को जोड़ा जाना है। सरकार की तत्परता से तकरीबन अब तक 8.90 करोड़ से अधिक लाभार्थियों को इस योजना के तहत ई-कार्ड जारी किये जा चुके हैं। साथ ही 16 हजार अस्पतालों को इससे जोड़ा जा चुका है, जिनमें से 50 प्रतिशत निजी अस्पताल हैं। अब प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत इलाज करने वाले अस्पतालों के प्रदर्शन पर नजर रखी जाएगी और प्रदर्शन के आधार पर उन्हें स्टार रेटिंग दी जाएगी।

यह भी पढ़ेंः All Is Not Well In Bihar NDA, नीतीश करा रहे RSS की जांच

कांग्रेस पर तंज कसते हुए श्री रंजन ने कहा कि इस योजना की लगातार बढ़ रही लोकप्रियता से कांग्रेस के नेता सदमे में चले गए होंगे। याद करें तो गरीबों के स्वास्थ्य से जुड़े महत्वपूर्ण मसलों पर खुद कुछ नहीं करने वाली इस पार्टी के नेता शुरुआत से ही इस योजना का विरोध करते हुए इसे फेल बता रहे थे। लेकिन इतनी ज्यादा संख्या में इस योजना से जुड़कर जनता ने उन्हें एक करारा जवाब दिया है। कांग्रेस यह जान ले कि अब कोरी हवाबाजी से काम नही चलने वाला है। अगर उन्हें राजनीति में बने रहना है तो जनता के लिए काम करना ही पड़ेगा।

यह भी पढ़ेंः गृह विभाग ने ADG से पूछा, किसके कहने पर करायी RSS की जांच

यह भी पढ़ेंः आयुष्मान भारत योजना से स्वास्थ्य क्षेत्र में 34% रोजगार बढ़ा

- Advertisement -