अमित शाह ने सत्ता परिवर्तन के लिए ‘चलो पलटाई’ का नारा दिया

0
201
बंगाल में बादशाहत की जंग बीजेपी के लिए अब आसान नहीं दिख रही है। तृणमूल कांग्रेस के लिए मुश्किलें कम हो रही हैं, जबकि बीजेपी की बढ़ती जा रही है।
बंगाल में बादशाहत की जंग बीजेपी के लिए अब आसान नहीं दिख रही है। तृणमूल कांग्रेस के लिए मुश्किलें कम हो रही हैं, जबकि बीजेपी की बढ़ती जा रही है।
  • डी. कृष्ण राव

कूचबिहार (पश्चिम बंगाल)। अमित शाह ने बंगाल में सत्ता परिवर्तन के लिए ‘चलो पलटाई’ का नारा देकर पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी पर जम कर हमला बोला। गृह मंत्री अमित शाह ने यहां आयोजित जनसभा में ममता बनर्जी की सरकार को उखाड़ फेंकने का आह्वान किया। अमित शाह ने कूचबिहार से बीजेपी की चौथी परिवर्तन यात्रा को हरी झंडी दिखाई।

बीजेपी की परिवर्तन यात्रा पर ममता बनर्जी द्वारा उठाए सवाल का जवाब देते हुए अमित शाह ने कहा कि बंगाल को सोनार बांग्ला बनाने, घुसपैठ रोकने, बंगाल को विकास के मार्ग पर आगे बढ़ाने व गुंडाराज समाप्त करने के लिए यह परिवर्तन यात्रा निकाली गयी है। उन्होंने आरोप लगाया कि ममता बनर्जी आम आदमी के नाम पर गुंडों के द्वारा चुनाव जीतना चाहती हैं।

- Advertisement -

उन्होंने ममता बनर्जी को चेतावनी देते हुए कहा कि इस बार चुनाव में गुंडागर्दी नहीं चलेगी। लोगों से अपील करते हुए उन्होंने कहा कि ममता बनर्जी ने 10 साल में कुछ नहीं किया। अगर अगले चुनाव में लोग बीजेपी की सरकार चुनते हैं तो साल भर में बंगाल को सोनार बांग्ला में बदल देंगे। उन्होंने लोगों को एक ही भरोसा दिलाया कि घुसपैठ तो दूर की बात, पंछी भी पर नहीं मार पाएगा।

उनका यह भी आरोप है कि केंद्र की किसान सम्मान निधि और आयुष्मान योजना जैसी कई जनहितकारी योजनाओं को ममता बनर्जी ने बंगाल में इसलिए लागू नहीं किया कि नरेंद्र मोदी का प्रचार हो जाएगा। उन्होंने राज्य के किसानों को भरोसा दिलाते हुए कहा कि राज्य में भाजपा सरकार बनते ही पहली कैबिनेट मीटिंग में ही किसानों को पिछले 2 साल के बकाये 12000 रुपये साथ में इस साल के 6000 रुपये यानी कुल 8000 रुपये दे दिये जाएंगे। सरकार बनने के बाद एक हफ्ता के अंदर आम आदमी के पास आयुष्मान भारत के कार्ड पहुंचाने की बात भी उन्होंने कही।

अमित शाह ने ममता के भतीजा प्रेम पर कटाक्ष करते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी देश और लोगों के कल्याण के लिए काम करते हैं। बुआ अपने भतीजे को मुख्यमंत्री बनाने के लिए काम कर रही हैं। पिछले कई महीनों में राजनीतिक कारणों से उनके जिन समर्थकों की हत्या हुई है, उनके नाम गिनाते हुए पुलिस और ममता की सरकार को उन्होंने चेतावनी देते हुए कहा कि हत्यारे बख्शे नहीं जाएंगे।

राजवंशियों के लिए ने की अमित शाह कई घोषणाएं

200 से ज्यादा सीटों पर जीतने का दावा करते हुए अमित शाह ने उत्तर बंगाल के राजवंशियों की कई मांगों को मानते हुए कहा कि सत्ता में आते ही 500 करोड़ रुपये खर्च कर राजवंशी संप्रदाय की शिक्षा, संस्कृति पर एक राजवंशी सांस्कृतिक केंद्र की स्थापना की जाएगी। इसके अलावा मुगलों के समय राजवंशियों की नारायणी सेना की वीरगाथा को दोहराते हुए उन्होंने केंद्रीय अर्द्धसैनिक बल में नारायणी रेजिमेंट की स्थापना का वादा किया। उत्तर बंगाल में 250 करोड़ रूपये खर्च कर पंचानन बर्मन की मूर्ति की स्थापना की बात कह राजवंशियों को अपनी तरफ खींचने की उन्होंने कोशिश की।

यह भी पढ़ेंः अमित शाह ने कहा- ‘भाईपो’ को CM बनाना ही ममता का सपना(Opens in a new browser tab)

सभा में उपस्थित भीड़ को देखते हुए गदगद अमित शाह ने भीड़ से जय श्रीराम का नारा लगाते हुए कहा कि ममता बनर्जी एक संप्रदाय को खुश करने के लिए जय श्रीराम नारे पर गुस्सा हो जाती हैं। उन्होंने यह भी कहा कि चुनाव का रिजल्ट आने के बाद ममता बनर्जी खुद जय श्रीराम का नारा लगाने लगेंगी। उन्होंने लोगों से कहा कि पिछले 10 साल में बंगाल हत्या, हत्या के प्रयास, राजनीतिक हत्या, महिला उत्पीड़न में नंबर एक बन गया। विकास में बंगाल को एक नंबर बनना चाहिए था, क्योंकि पिछले 5 साल में केंद्र की ओर से 359000 करोड रुपये राज्य को दिये गये, पर ममता बनर्जी ने उस पैसे से कुछ काम नहीं किया।

यह भी पढ़ेंः बंगाल में शांति से रहना है तो तृणमूल को ही सत्ता सौंपेंः ममता(Opens in a new browser tab)

- Advertisement -