लाखों की शराब के साथ हरियाणा का कारोबारी गिरफ्तार

0
154

छपरा। गुरुवार की रात उत्तरप्रदेश और बिहार के बॉर्डर पर मांझी थाना क्षेत्र के जयप्रभा सेतु के पास से पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर छापेमारी कर एक ट्रक को पकड़ा। ट्रक की जब तलाशी ली गयी तो उसमें 450 पेटी अंग्रेजी शराब लोड थी। मौके से ड्राइवर और खलासी तो पकड़े ही गए, उनसे पूछताछ के बाद हरियाणा का मुख्य सप्लायर राजेश कुमार और उसके एक साथी को स्थानीय होटल से पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। शराब से भरा ट्रक बिहटा जा रहा था, जहां शराब की सप्लाई होनी थी ।

आये दिन हो रही शराब की तस्करी को रोकने को ले सारण पुलिस लगातार अभियान चला रही है। इसी कड़ी में पहली बार ऐसा हुआ है कि कोई शराब का बड़ा सप्लायर पुलिस की गिरफ्त में आया है। इससे शराब कारोबारियों के बड़े नेटवर्क का खुलासा हो सकता है। पकड़ा गया राजेश पानीपत हरियाणा का रहने वाला है। वहाँ उसकी खुद की शराब की दुकान का लाइसेंस है। उसने अवैध ढंग से बिहार में शराब की सप्लाई शुरू कर दी है। पुलिस ने उसके पास से एक लाख का चेक, नगदी औऱ कई मोबाइल बरामद किये हैं। पकड़ी गई शराब की कीमत लगभग 50 लाख रुपये आंकी गयी है।

- Advertisement -

इस संबंध में आरक्षी अधीक्षक हर किशोर राय ने जानकारी देते हुए कहा कि शराब का अवैध कारोबार न हो, इसको लेकर सारण पुलिस लगातार प्रयास कर रही है। इसी का नतीजा है कि आये दिन सारण में शराब की खेप पकड़ी जा रही है।उन्होंने इस बार की बरामदगी को बड़ी कामयाबी मानी। उन्होंने कहा कि इस बार की उपलब्धि विशेष है, क्योंकि हरियाणा से बिहार के अलग-अलग जिलों में शराब सप्लाई करने वाला कारोबारी भी गिरफ्तार हुआ है। इससे इनके नेटवर्क का खुलासा होने की संभावना बढ़ गयी है। पकड़ा गया ट्रक शराब लेकर बिहटा जाने वाला था, लेकिन पुलिस की चौकस निगाहों से नही बच सका।

यह भी पढ़ेंः

बिहार के लिए निर्धारित लक्ष्य से अधिक आवास की आवश्यकता

 

- Advertisement -