लड़की भगाने के मामले में तीन बच्चों के पिता गये जेल

0
123

बेगूसराय (नंदकिशोर सिंह)। नगर निगम क्षेत्र के 31 नंबर वार्ड निवासी अरुण कुमार सिंह उर्फ पप्पू सिंह को पुलिस ने जेल भेज दिया।  वह तीन बच्चों का पिता है। उस पर आरोप है कि वह अपने ही मकान में रह रहे  एक किरायेदार की 17 वर्षीय नाबालिग बेटी को बहला-फुसलाकर पिछले 30 जुलाई को लेकर फरार हो गया था।

लड़की के परिजनों द्वारा रांची (झारखंड) से उन दोनों को बरामद कर नगर थाना गुरुवार को लाया गया था। इस संदर्भ में नगर थाना में पहले ही प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी। लड़की का बयान कोर्ट में  दर्ज कराने के बाद लड़की को न्यायालय के आदेश पर परिजनों के साथ घर भेज दिया गया। वहीं मकान मालिक को इस मामले में  जेल भेज दिया गया है। उपरोक्त बातों की पुष्टि टाउन थाना अध्यक्ष ने की है।

- Advertisement -

बेगूसराय में बंद का मिलाजुला असरः भी बंदी का असर मिला जुला  रहा। वामदल के कार्यकर्ताओं ने शहर की लगभग सभी दुकानों को बंद कराकर एन एच- 31 पर ट्रैफिक चौक के पास  आवागमन को करीब 4 से 5 घंटे तक बाधित रखा। उसके बाद जाकर आवागमन सामान्य हुआ। बंद के दौरान जिला पुलिस बल के जवान भी काफी चौकस दिखे।  करीब 1:30 बजे दिन के बाद जाकर सड़क पर आवागमन सामान्य हो गया और शहर की दुकानें धीरे-धीरे खुल गयीं।

हालांकि बंदी के कारण सड़क मार्ग से चलने वाले यात्रियों को काफी फजीहत झेलना पड़ी। सड़क पर आवागमन ठप रहने के कारण घंटों जाम में  फंस कर यात्री परेशान दिखे। स्कूली बच्चों को भी काफी परेशानी स्कूल जाने में हुई।

बंद को सफल बनाने में बछवाड़ा के पूर्व विधायक अवधेश राय, पूर्व एमएलसी उषा सहनी, भाकपा नेता अंजनी कुमार सिंह, अनिल कुमार अंजाम, भाकपा के किसान नेता प्रताप नारायण सिंह, माकपा नेता सुरेश यादव, राजद के जिला अध्यक्ष अशोक यादव समेत दर्जनों कार्यकर्ता सक्रिय दिखे। इसके अलावा एआईएसएफ के अमीर हमजा, सजग सिंह, शंभू देवा भी सक्रिय थे।

यह भी पढ़ेंः

मुजफ्फरपुर बालिका गृह की घटना कोई आकस्मिक दुर्घटना नहीं

अग्निवेश के साथ बदसलूकी सोशल मीडिया पर छायी

- Advertisement -