रांची के लोगों ने एक एसएसपी को विदा किया, दूसरे का स्वागत

0
159

रांची। विभिन्न संस्थाओं ने रांची के एसएसपी के लिए एक विदाई सम्मान समारोह कार्यक्रम आयोजित किया। इसमें 20 से 25 संस्थाओं ने कुलदीप द्विवेदी को फूलों का माला पहना कर, शॉल उढ़ाकर सम्मानित किया। रांची वासियों को एसएसपी के रांची से जाने का गम तो था ही, मुहब्बत भी थी। कुलदीप द्विवेदी ने कहा कि जब तक मैं रांची में रहा, जनता ने पूरा समर्थन किया। जनता से समन्वय बनाकर काम करने में आसानी होती है। आप लोगों ने बहुत प्यार दिया है रांची को भुला पाना मुश्किल है। रांची के लोगों की बहुत याद आएगी। उन्हांेने उम्मीद जताई की मेरे जाने के बाद भी रांची शांत रहेगा। उन्होंने कहा कि कुछ लोग हैं जिनकी तादाद कम है उन्हीं लोग माहौल को खराब करना चाहते हैं। लेकिन अमन पसंद जनता के आगे मंसूबा फेल हो जाता है। रांची का माहौल खराब करने की बहुत कोशिश की गई लेकिन प्रशासन की मदद से मामला को तुरंत शांत कर दिया गया । क ुलदीप ने कहा कि हमलोगों ने आधे घंटे में मामला को कंट्रोल किया। उन्होंने कहा कि त्योहार आने वाला है वार्ड लेबल पर काम करना है। अमन पसंद लोग और सकारात्मक सोंच रखने वालों को अपनी टीम मंे शामिल कर सोहार्द बनाये रखना है। उन्होेंने कहा कि सच की लीडरशीप की तैयारी मंे इंतेजार किसी का मत किजिए। रांची को शांत करने में रांची की जनता का भी पूरा योगदान रहा है।

रांची के सिटी एसपी अमन कुमार ने कहा कि एक जगह बर्तन रहने से आवाज करती है तो क्या हम बर्तन को फेंक देते हैं नहीं बल्कि उसको ठीक से रखते हैं।  कुलदीप द्विवेदी सर के साथ काम करने का अच्छा अनुभव रहा। ये अपने कार्य को इमानदारी से निभाया जिसे आज जनता दिल में बैठाई है। एसएसपी कुलदीप द्विवेदी, सिटी एसपी अमन कुमार, डॉ असलल परवेज, साहेब अली, हीरालाल साहु, टिंकू सरदार, जमील खान, सरफराज सुडडु, हाजी मोख्तार, तनवीर, राजीव रंजन मिश्रा, जय सिंह यादव, हाजी रऊफ, राजकुमार ठाकुर, विरेन्द्र कुमार, मंदीप कुमार, वारिस कुरैशी आदि उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन नदीम खान जबकि धन्यवाद ज्ञापन डॉ असलम परवेज ने किया।

- Advertisement -
- Advertisement -