बेगूसरायः मान गये पार्षद, अब नहीं देंगे इस्तीफा

0
209

बेगूसराय (नंदकि शोर सिंह)। जिला परिषद के कुछ पार्षद पिछले तीन दिनों से मनरेगा और पंचम कार्य योजनाओ के विकास कार्यों को लेकर नाराज चल रहे थे। उनकी नाराजगी का आलम यह था कि इस्तीफे तक की धमकी दे डाली थी। लेकिन अब उनमें आम राय बन गयी है और इस्तीफे का उन्होंने मन बदल लिया है।

नाराज पार्षदों में जिला परिषद क्षेत्र संख्या 24 के ऋषि भारती, 27  की किरण ठाकुर,  10 की इंदु देवी, 33 क्षेत्र की पुष्पा देवी और जिला परिषद क्षेत्र संख्या 35 के अंकित कुमार उर्फ नन्हें का नाम शामिल है। इन्होंने अपने पद से इस्तीफा देने की घोषणा की थी।

- Advertisement -

इस घोषणा के बाद जिला परिषद के अध्यक्ष रविंद्र चौधरी ने अपने कार्यालय कक्ष में सोमवार को सभी पार्षदों की आपात बैठक बुलाई। इसमें सर्वप्रथम जिला परिषद के नाराज चल रहे सभी पार्षदों की बातें उन्होंने सुनीं।

उसके बाद जिला परिषद अध्यक्ष श्री चौधरी ने सभी पार्षदों के साथ बैठक कर आम सहमति बनाकर विकास  कार्यों का भरोसा दिलाया। उन्होंने कहा कि हमारे सभी सम्मानित माननीय पार्षदों के क्षेत्र में विकास का कार्य निश्चित रूप से होगा। आप इसके लिए मेरे ऊपर भरोसा बनाये रखें।

उन्होंने कहा कि आप लोग मेरे अध्यक्ष  रहते हुए नाराज न रहें और अपने पद से इस्तीफा अभी न दें। दो महीनों के भीतर हम सभी समस्याओं का निराकरण कर देंगे। उसके बाद क्षुब्ध चल रहे पार्षदों ने  अपना इस्तीफा नहीं देने की घोषणा बैठक में की। जिला परिषद अध्यक्ष को सर्वसम्मति से उनकी देखरेख में सभी समस्याओं का निराकरण करने पूरा भरोसा  सभी पार्षदों ने जताया। इसके लिए नाराज चल रहे पार्षदों ने अपने अध्यक्ष रविंद्र चौधरी और उपाध्यक्ष शुभान धुनिया को हृदय से बधाई दी।

यह भी पढ़ेंः

बिहार के लिए निर्धारित लक्ष्य से अधिक आवास की आवश्यकता

आपदा से निपटने के लिए हरसंभव सहायता देगी बिहार सरकार 

इस बैठक में  जिला परिषद के कार्यपालक अभियंता नवल किशोर के अलावा जिला परिषद क्षेत्र संख्या 10 की इंदु कुमारी, 14 की इंदु देवी, 18 के मोहम्मद सिकंदर अली, 15 की सुल्ताना बेगम, 11 की रेहाना बेगम, 17 के जनार्दन यादव, 28 के राम नंदन पासवान, 27  की किरण ठाकुर, 30  की श्वेता देवी, 24  के श्रषि भारती, 22 की माला देवी, 34 के  झुन्ना सिंह समेत कई अन्य पार्षदों के पति भी बैठक में उपस्थित थे। इस बैठक के बाद पिछले 3 दिनों से  चल रहे जिला परिषद के पार्षदों के द्वारा  हाई प्रोफाइल ड्रामा पर विराम अब लग गया है।

यह भी पढ़ेंः सीडब्लूसी में बिहार की उपेक्षा पर विधायक ने आपत्ति जतायी

 

- Advertisement -