प्रतियोगिता में दौड़ रहे छात्र की मौत, ग्रामीणों ने जाम की सड़क

0
184
बिहार
बिहार

बेगूसराय। मंसूरचक प्रखंड के अहियापुर संकुल अंतर्गत मध्य विद्यालय अहियापुर के मैदान में शुक्रवार को चल रही तरंग प्रतियोगिता में गिरने से उत्क्रमित उच्च विद्यालय छबीलापुर के वर्ग 8 के छात्र और मुर्गीयाचक गांव निवासी मोती के 14 वर्षीय पुत्र मो. कामिल की मौत हो गई।

घटना के संबंध में बताया जाता है कि मो. कामिल  ने तरंग प्रतियोगिता में अपने विद्यालय की ओर से दौड़ में भाग लिया था। दौड़ने के क्रम में शामिल अन्य बच्चों से वह तेज दौड़ रहा था। दौड़ते-दौड़ते अचानक गिर पड़ा। आनन-फानन में उसे उठा कर दलसिंहसराय ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

- Advertisement -

मौत की खबर सुनते ही मुर्गीयाचक गांव के लोग आक्रोशित हो गए तथा गुरदासपुर चौक पर मंसूरचक-दलसिंहसराय पीडब्ल्यूडी सड़क को जाम कर दिया। सड़क के बीच में टायर जलाकर लोगों ने जम कर विद्यालय के प्रति आक्रोश जताया। नारेबाजी की। आक्रोशित ग्रामीणों ने 3 घंटे तक सड़क जाम रखी। वे मुआवजे की मांग कर रहे थे। प्रखंड विकास पदाधिकारी प्रभात  कुमार दत्त, इंस्पेक्टर शरद कुमार,  थानाध्यक्ष अरविंद कुमार, भगवानपुर थानाध्यक्ष दीपक कुमार, एएसआई रामवरन प्रसाद,  एसआई राजकुमार यादव, मुखिया प्रतिनिधि मोहम्मद सलामत, पूर्व मुखिया अमीनुद्दीन, पूर्व मुखिया सुरेश महतो,  मोहम्मद हैदर आदि के काफी समझाने बुझाने के बाद लोग शांत हुए। तब जाकर सड़क जाम समाप्त हुआ।

मां का रो-रो कर बुरा हला- हमर बेटवा कैय खायगेलैय मस्टरवा 

बाप रे बाप, नैय पढ़ते रे बाप,  हमर बेटा सोना कैय खायगेलैय मस्टरवा हो बाप। कहलक रैय बेटा पढ़तो तैय और दौड़तो तैय सिपाही बनतो रे बाप। अब के हम्मर बेटा होतैय हो बाप। उक्त बात कह कह कर उसकी मां बार-बार बेहोश हो जा रही थी। मृतक मो. कामिल की मां और साठा पंचायत के वार्ड संख्या दो की सदस्या शबनम खातून यही बोल-बोल कर बार-बार बेहोश हो जा रही थी और उसे देखकर घर पर मृतक और उसकी मां  को देखने आये लोगों का भी बुरा हाल हो गया।

यह भी पढ़ेंः शौचालय की टंकी में गिरी बकरी निकालते तीन लोगों की मौत

- Advertisement -