कोरोना वायरस के एक दिन में 1637 केस सामने आए

0
116
कोरोना वायरस के पिछले 24 घंटों में 1637 केस सामने आए हैं। इनमें 386 मामले जांच में पाजिटिव पाये गए हैं। इतनी तेज बढ़त निजामुद्दीन मरकज की वजह से है।
कोरोना वायरस के पिछले 24 घंटों में 1637 केस सामने आए हैं। इनमें 386 मामले जांच में पाजिटिव पाये गए हैं। इतनी तेज बढ़त निजामुद्दीन मरकज की वजह से है।

रांची। कोरोना वायरस के पिछले 24 घंटों में 1637 केस सामने आए हैं। इनमें 386 मामले जांच में पाजिटिव पाये गए हैं। इतनी तेज बढ़त निजामुद्दीन मरकज की वजह से है। कैबिनेट सेक्रेटरी ने राज्यों के मुख्य सचिव & DGP के साथ बैठक कर कहा है कि युद्ध स्तर पर मरकज में शामिल लोगों की तलाश की जाये। निज़ामुद्दीन मरकज़ से निकले तबलीगी जमात के लोगों को ट्रेस करें, जो संपर्क में आए हों, उन्हें खोज निकाला जाए। कोरोना संक्रमण को बेहिसाब बढ़ने से रोकना है। विदेशों से आने वालों ने वीज़ा नियम तोड़े थे।

इधर रांची के पिठोरिया थाना क्षेत्र के कोकदोरो गांव के एक घर में रह रहे 10 विदेशियों को पुलिस क्वारंटाइन के लिए ले गयी है। सभी विदेशी नेपाल के रहने वाले बताये जाते हैं। ये सभी जमात के लिए कोकदोरो की विभिन्न मस्जिदों में दीन का तालीम देने वाले बताये जाते हैं।

- Advertisement -

स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा कि अब तक कोरोना वायरस के 1637 केस सामने आए हैं। पिछले 24 घंटों के दौरान 386 नए मामले जांच में पाजिटिव पाये गए हैं। अभी तक कोरोना के कहर से 38 लोगों की मौत हुई है। 132 मरीज ठीक हुए हैं। कल से कोरोना के पॉजिटिव केस बढ़े हैं। समझा जाता है कि तबलीगी जमात के लोगों के घूमने से मामले बढ़े हैं।

यह भी पढ़ेंः COVID 19 : कोरोना के चलते देश के कई बड़े मंदिर बंद

लव अग्रवाल ने कहा कि तबलीगी जमात से जुड़े 1800 लोगों को अस्पताल और क्वारंटाइन सेंटर भेजा गया है। उन्होंने बताया कि रेलवे 3.2 लाख आइसोलेशन और क्वारंटाइन बेड बना रहा है। ये 5000 रेल कोच में बनेंगे। इसका काम शुरू हो गया है। देश में पहली बार 24 घंटे में सामने आए सबसे अधिक 386 नए मामलों में अकेले 134 मामले तबलीगी मरकज जमात से जुड़े बताये जा रहे हैं। 134 लोग तबलीगी जमात के कार्यक्रम में शामिल हुए थे।

यह भी पढ़ेंः कोरोना वायरस के लिए है लॉकडाउन, जनता के लिए नहींः BJP

- Advertisement -