कुम्भकर्णी नींद से जागे हिन्दू समाज तभी बचेगी संस्कृति: गिरिराज  

0
173

बछवाड़ा (बेगूसराय)। सांस्कृतिक महोत्सव का आयोजन अपनी संस्कृति व संस्कार को अक्षुण्ण बनाये रखने का सबसे सशक्त माध्यम है। इसलिए ऐसे आयोजनों की निरंतरता बनी रहनी चाहिए। धर्म हमारी बेटी के समान है, जिसकी अस्मिता को बचाये रखने की आवश्यकता है। यदि धर्म नहीं बचेगा तो हमारी गौरवशाली विरासत भी नहीं बचेगी। ये बातें भारत सरकार के केंद्रीय राज्य मंत्री गिरिराज सिंह ने बेगूसराय जिले के झमटिया गंगा धाम में आयोजित कावरिया सेवा भारत रत्न अटल जी को समर्पित कार्यक्रम में कहीं।

वर्ष 2008 से अंतिम सोमवारी की पूर्व संध्या यहां लाखों की संख्या मिथिला के अलग अलग क्षेत्रों से शिव भक्त गंगा जल लेने पहुंचते हैं। कार्यक्रम के दौरान मुख्य अतिथि के रूप में मंच से लोगों को संबोधित करते हुए केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह ने कहा कि आज हिन्दू समाज को अपनी विरासत को बचाने के लिए कुम्भकर्णी नींद से जागने की आवश्यकता है। नहीं तो वो दिन दूर नहीं, जब विभिन्न समाजों के लगातार हो रहे हमलों से हिन्दू समाज अपने को बचा कर नहीं रख पाएगा।

- Advertisement -

जनसंख्या नियंत्रण सम्बन्धी बातों पर बल देते हुए उन्होंने कहा कि ऐसा कानून बनना चाहिए, जिसमें सभी समुदायों को सिर्फ दो बच्चे पैदा करने का नियम हो, चाहे वो हिन्दू हो या मुसलमान या फिर सिख या ईसाई। उन्होंने ये भी कहा कि आजादी के वक्त पाकिस्तान में हिंदुओं की संख्या 22 प्रतिशत थी, जो अब एक प्रतिशत से भी नीचे आ गयी और हिंदुस्तान में मुसलमानों की आबादी आठ प्रतिशत थी, जो अब 25 प्रतिशत से भी ज़्यादा हो गयी।

उन्होंने कहा कि इन बातों पर गौर करने की आवश्यकता है। इसलिए यदि सामाजिक समरसता का माहौल बनाये रखना है तो समाज के सभी वर्गों के लोगों को आगे आना होगा। कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह, बिहार सरकार के पूर्व मंत्री और राजद नेता शिवचंद्र राम, पूर्व विधान पार्षद भूमिपाल राय, भाजपा क्रीड़ा प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष कुन्दन कुमार, पूर्व प्राचार्य डॉ. शालिग्राम सिंह, एलएस कालेज मुजफ्फरपुर के प्राचार्य प्रो. ओ.पी. राय, प्रो. अशोक कुमार सिंह अमर, डॉ. शैलेन्द्र शर्मा त्यागी आदि ने संयुक्त रूप से पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के चित्र पर माल्यार्पण व पुष्पांजलि अर्पित की। अध्यक्षता प्रसिद्ध न्यूरो सर्जन डा संजय कुमार ने और संचालन आयोजन समिति के अध्यक्ष प्रभाकर कुमार राय ने किया।

उक्त अवसर पर बिहार सरकार के पूर्व कला संस्कृति मंत्री सह राजद के वरिष्ठ नेता शिवचंद्र राम ने अपने कार्यकाल में बेगूसराय ज़िले में कराए गए कार्यों को गिनाया और उपस्थित लोगों से समाज में सद्भाव विकसित करने की वकालत की। विभिन्न क्षेत्रों में उल्लेखनीय कार्य करने वाली अनेक शख्सियतों को आयोजन मंडल द्वारा सम्मानित भी किया गया। हिंदी, भोजपुरी व मैथिली फिल्मों में बेगूसराय के पहले हीरो बने अभिनेता अमिय कश्यप, लव यू दुल्हिन फ़िल्म के निर्माता विष्णु पाठक, रजनीकांत पाठक, दूरदर्शन दिल्ली के वरिष्ठ पत्रकार राजेश राज, पटना के वरिष्ठ पत्रकार अमिताभ ओझा, सुप्रसिद्ध लोकगायिका वंदना सिन्हा, भजन गायक सत्येंद्र कुमार संगीत, अंजना इस्सर, पार्श्वगायक देवानंद झा, गीतकार सुधीर झा, लोकगायक शिवेश मिश्रा आदि को उनके उल्लेखनीय योगदान पर सम्मानित किया गया।

यह भी पढ़ेंः राधामोहन का दावा- कार्यकर्ताओं के बल पर फिर बनेगी मोदी सरकार

- Advertisement -