कहीं सिरफिरे आशिक ने तो नहीं की सोनाली की हत्या

0
525
बेगूसराय से नंद किशोर सिंह
  • 15 जुलाई की देर शाम में एस० कमाल के सन्हा ढाला के पास एन० एच० 31 के किनारे पुलिस ने झाड़ी से किया था इंटर की छात्रा सोनाली का शव बरामद, उस समय उसके शव की शिनाख्त नहीं हो पाई थी
  • सोनाली की हत्या किसी सनकी आशिक के द्वारा कर देने का शक
  • मामले का खुलासा करने में जुटी है बेगूसराय की पुलिस टीम
  • 14 जुलाई को 12.9 बजे जिले के एस बी एस एस कॉलेज में अपने भाई के साथ इंटर कंपार्टमेंटल परीक्षा के संबंध में पता लगाने के लिए आई थी सोनाली
  • एस बी एस एस कॉलेज में लगे सीसीटीवी कैमरे के फुटेज  देखने के बाद यह पता चला कि सोनाली अपने भाई के मोटरसाइकिल से कॉलेज में आई थी।
बेगूसराय में इंटर की छात्रा सोनाली हत्याकांड जिले के पुलिस के लिए सिर का दर्द पिछले 5 दिनों से बना हुआ है। पुलिस का दावा है कि जल्द ही इसके हत्यारे को पकड़ लिए जाएंगे। हालांकि पुलिस 6 दिनों से सिर्फ हवा में तीर चला रही है।
पिछले बुधवार से सोनाली की हत्या को लेकर छात्र संगठन भी रोड पर उतर आए और पुलिस प्रशासन के खिलाफ जिले में बढ़ रहे अपराध के खिलाफ जमकर नारे लगाए। इसी हत्याकांड को लेकर बजरंग दल के लोगों ने भी एक दिवसीय धरना प्रदर्शन जिलाधिकारी के दक्षिणी द्वार पर शुक्रवार को किया। उन्होंने भी पुलिस प्रशासन को चेताया कि शीघ्र सोनाली के हत्यारों की गिरफ्तारी पुलिस करें,नहीं शीर्ध हत्यारे की गिरफ्तारी होने पर और आंदोलन को तेज किया जाएगा।
दूसरी तरफ सोनाली के परिजन भी उसके हत्यारे को गिरफ्तार कर फांसी की सजा देने की मांग कर रहे हैं । घटना के बाद एसपी आदित्य कुमार के द्वारा एक पुलिस टीम का गठन कर हत्यारों को शीघ्र गिरफ्तार करने का निर्देश दिया गया है । उसके बाद से पुलिस की टीम  इस घटना को लेकर लगातार दिन रात मोबाइल टावर लोकेशन के आधार पर हत्यारों को पता लगाने में जुटी हुई है । पुलिस को भी शक  है कि इंटर की छात्रा सोनाली की हत्या किसी सनकी आशिक ने ही किया है । उसके हत्या चाकू सेे गोदकर कर दी गई है। सोनाली हत्याकांड रिफाइनरी ओपी थाना क्षेत्र के मकरदही गांव निवासी बृजभूषण सिंह की इकलौती पुत्री जो इंटर की छात्रा सोनाली थी ।जिसे पिछले 14 जुलाई को कॉलेज से या तो अगवा कर किसी सनकी आशिक ने हत्या कर दी या उसका शव बेगूसराय से लगभग 30 किलोमीटर पूरब राष्ट्रीय उच्च पथ 31 के निकट सान्हा ढ़ाला के पास झारी से पुलिस ने अज्ञात शव के रूप में बरामद किया था।
जब सोनाली के परिजन 3 दिनों के बाद रिफाइनरी ओपी थाना 16 जुलाई को पहुंचकर सोनाली के संबंध में जानकारी लेने पहुंचा, तो पुलिस ने बताया कि शायद सदर अस्पताल में एक लड़की का अज्ञात शव रखा हुआ। सदर अस्पताल पहुंचकर सोनाली के परिजन ने सव को देखा तो पता चला कि यह  तो सोनाली का ही शव है।
सोनाली के परिजनों का कहना है कि पिछले 6 माह से सोनाली अपने मोबाइल फोन से किसी लड़के से बात किया करती थी। जब इस संदर्भ में सोनाली से पूछा गया तो उसने कुछ बोलने से इंकार कर दी, और वह अपना मोबाइल भी छुपाकर इस प्रकार रखती थी कि किसी परिजन को उसका मोबाइल कभी हाथ नहीं लगी। जिससे कि वह उसके मोबाइल से नंबर निकाल कर किसी के बारे में जान सके ।
इस हत्या के पीछे लोग कई सवाल उठा रहे हैं ।क्योंकि सोनाली के कॉलेज आने का सीसीटीवी फुटेज कॉलेज में  मिला है कि वह अपने भाई के साथ कॉलेज मोटरसाइकिल से आए है।लेकिन सोनाली किसके साथ और कब लौटे काँलेज से यह सीसीटीवी कैमरे के फुटेज में नहीं दिख रहा है ।सोनाली या तो खुद अकेले शा० कमाल गई या किसी आशिक के साथ ।पुलिस फिलहाल कई बिंदुओं पर जांच में जुटी हुई है ।सोनाली की  हत्या शरीर में कई जगहों पर चाकू गोदकर कर दी गई।
फिलहाल हत्या का कोई कारण स्पष्ट नहीं :  एसपी
 एसपी आदित्य कुमार ने दस घटना के संबंध में जानकारी लेने पर बताया कि सोनाली की हत्या होने के बाद हत्यारों की गिरफ्तारी व पता लगाने के लिए एक पुलिस टीम का गठन कर दिया गया है। जो पुरे इस घटना की जांच करने में जुटी है ।हालांकि पुलिस कई बिंदुओं पर इस घटना की जांच कर रही है ।जांच के बाद ही सोनाली की हत्या किसने की और क्यों की इसका खुलासा हो पाएगा।
- Advertisement -