हाजीपुर में बंद समर्थकों ने कई ट्रेनें रोकीं, बेगूसराय में रोड छेंका

0
143

हाजीपुर। डीजल-पेट्रोल के दामों में वृद्धि को ले विपक्ष के बंद का खासा असर दिखा। पटना से उत्तरबिहार का सड़क संपर्क सुबह से ही बाधित रहा। टोल प्लाजा सहित दर्जनों स्थानों पर बंद समर्थक सड़कों पर जाम लगा कर बैठे रहे। आशीष चौक पर प्रधानमंत्री के साथ नीतीश कुमार  का अर्थी जुलूस निकालकर दाह संस्कार किया गया। बंद समर्थक नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ नारे लगा रहे थे।

यह भी पढ़ेंः बिहार में बंद के दौरान बवाल, जहानाबाद में बीमार बच्ची की मौत

- Advertisement -

बंद के दौरान राजद जिलाध्यक्ष पंछीलाल राय, कांग्रेस जिलाध्यक्ष महेश राय, मुकेश सिंह, युवा कांग्रेस नेता राकेश यादव, सत्येंद्र राय, सहकारिता प्रकोष्ठ राजद के प्रदेश उपाध्यक्ष सह मीडिया प्रभारी संतोष कुमार चौधरी, राजद के वरीय नेता पूर्व जिला परिषद उपाध्यक्ष  सहदेव राय, बासकीत राय भुईया बाबा, बालेन्द्र दास समेत सैकड़ों समर्थक घूमते हुए बंद करवाते रहे। जाप समर्थकों ने कई ट्रेनों को थोड़ी देर रोका।

गोरौल में एनएच 22 पर राजद प्रखण्ड अध्यक्ष अमन कुमार मेहता, हम प्रखण्ड अध्यक्ष  राज नंदन प्रसाद यादव, कांग्रेस प्रखण्ड अध्यक्ष अजय कुमार सिंह के नेतृत्व में कार्यकर्ताओं ने सुबह 5 बजे से गोरौल में सड़क पर सिलेंडर रख कर जाम कर दिया। जाम कराने में प्रमुख मुन्ना कुमार, मुखिया विकास कुमार, राजद नेता नवल राय, मिहिर कुमार, संतोष कुमार, हम के विक्रम कुमार, संतोष यादव सहित अन्य कार्यकर्ता शामिल थे।

चकसिकन्दर के निकट पॉइंट 22 और 24 में पत्थर घुसा देने के कारण ट्रेन सं 63287 एवं 3206 अक्षयवट राय नगर स्टेशन पर लगभग एक घण्टे तक रुकी रही। वहीं मालगाड़ी भी रुकी रही। जब ट्रैक मैन और अन्य कर्मी खोजते-खोजते उक्त पॉइंट के निकट पहुँचे और पत्थर निकाला, तब जाकर लाइन क्लीयर हुआ और ट्रेन खुली।

पूर्व उप मुख्यमंत्री तेजश्वी यादव के निर्वाचन क्षेत्र में बन्द का व्यापक असर दिखा। जिसको लेकर अहले सुबह से ही हाजीपुर महनार एवं हाजीपुर जंदाहा मुख्य मार्ग पर जगह-जगह बन्द समर्थक केंद्र सरकार के विरोध में नारे लगा रहे थे।

बेगूसराय में बंद का व्यापक असर दिखा

बेगूसराय। सुबह के 9 बजे से ही बेगूसराय में सड़क व रेल यातायात को ठप कर कांग्रेस, राजद, सीपीआई, सीपीएम, माले, राकांपा, सपा तथा जन अधिकार पार्टी के कार्यकर्ताओं ने जिला से प्रखंड तक की सड़कों को जाम कर दिया। बंद समर्थक जगह-जगह सड़क जाम कर राज्य और केंद्र सरकार के खिलाफ नारे लगा रहे थे।

बंद समर्थकों ने रेल और सड़क मार्ग को अवरुद्ध कर परिचालन बाधित किया। बेगूसराय राजद के जिला अध्यक्ष अशोक यादव ने कहा कि नरेंद्र मोदी की सरकार पेट्रोल, डीजल, रसोई गैस की महंगाई, राफेल, नोटबंदी, बेरोजगारी, महिला उत्पीड़न, किसानों की समस्याओं को लेकर बेखबर है। अगर महंगाई पर शीघ्र लगाम केंद्र सरकार नहीं लगाती है, तो महागठबंधन के सभी नेता आगे और उग्र आंदोलन करेंगे। उन्होंने कहा कि आज का जो बंद है, वह सिर्फ नरेंद्र मोदी की सरकार के लिए सूचना मात्र है।

उन्होंने कहा कि जब केंद्र में यूपीए की सरकार थी तो उस समय पेट्रोल की कीमत 71.4  रुपये और डीजल की कीमत 55.49 रुपये प्रति लीटर थी। भाजपा की सरकार में पेट्रोल 86 .70 और डीजल 78.24 रुपये प्रति लीटर फिलहाल है। पिछले 52 महीनों में रसोई गैस की  भी कीमत में 340 रुपये की बढ़ोतरी की गई है। रेलवे किराया 6 रुपये प्रति किलोमीटर से बढ़ाकर 9 रुपये प्रति किलोमीटर हो गया है। भाजपा और उनके सहयोगी दलों को पेट्रोलियम पदार्थों के दाम में वृद्धि और उसके काल में बढ़ी महंगाई से आम आदमी की परेशानी काफी बढ़ गई है।  केंद्र और राज्य सरकार को इसकी कोई चिंता फिलहाल नहीं है।

यह भी पढ़ेंः झारखंड में बैलगाड़ी पर बैठ कर सड़कों पर उतरे बंद समर्थक

- Advertisement -