रालोसपा की बिहार में शिक्षा सुधार यात्रा बुधवार से

0
54

नई दिल्ली। राष्ट्रीय लोक समता पार्टी बिहार में बदहाल शिक्षा व्यवस्था के सवाल पर शिक्षा यात्रा निकालेगी। शिक्षा यात्रा की शुरुआत बुधवार से होगी। पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव व प्रवक्ता फजल इमाम मल्लिक ने बताया कि शिक्षा रथ यात्रा का शुभारंभ रालोसपा अध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा करेंगे। शिक्षा यात्रा का शुभारंभ 3 जनवरी को होगा।

मल्लिक ने रालोसपा के शिक्षा सुधार कार्यक्रम की जानकारी देते हुए बताया कि पार्टी बिहार में अपने आंदोलन को आगे बढ़ाते हुए राज्य में शिक्षा यात्रा निकाल रही है। रालोसपा राज्य में शिक्षा सुधार पर पिछले डेढ़ साल से आंदोलन चला रही है। मल्लिक ने कहा कि बिहार में शिक्षा सुधार और 25 सूत्री मांगों को राज्य सरकार पर दबाव बनाने के लिए रालोसपा शिक्षा सुधार यात्रा निकाल रही है। इसकी शुरूआत सावित्री बाई फुले की जयंती पर 3 जनवरी से कुर्था जहानाबाद में जगदेव बाबू की प्रतिमा को नमन कर शुरू होगी और पहले दिन नवादा तक जाएगी।

- Advertisement -

यात्रा 2 फरवरी को पटना में होने वाले आक्रोश मार्च की तैयारी की कड़ी होगी। मल्लिक ने बताया कि यात्रा की अगुआई पूर्व केंद्रीय मंत्री और रालोसपा प्रमुख उपेंद्र कुशवाहा करेंगे। इसके बाद यात्रा 12 जनवरी को खगड़िया से समस्तीपुर, 13 जनवरी को मोतिहारी से गोपालगंज, 15 जनवरी को सीतामढ़ी से मधुबनी, 16 को सहरसा से पूर्णिया, 19 को मुजफ्फरपुर से समस्तीपुर, 20 को मुंगेर से भागलपुर, 29 को गया से औरंगाबाद और अंतिम दिन 30 जनवरी को डेहरी से बक्सर तक निकाली जाएगी। यात्रा के दौरान लोगों को रालोसपा के शिक्षा सुधार से जुड़े 25 सूत्री मांगों की जानकारी लोगों को दी जाएगी।

यह भी पढ़ेंः मामा लोगों से भाजों, तो सालों से बहनोई के नाराज होने की वजह

यह भी पढ़ेंः महागठबंधन में सीट बंटवारे पर महामंथन का पहला दौर खत्म

यह कार्यक्रम राज्यभर में जारी रहेगा। रथ यात्रा का समापन महात्मा गांधी के शहादत दिवस पर होगा। मल्लिक ने बताया कि इस दौरान पार्टी राज्य भर में शिक्षा सुधार के लिए हस्ताक्षर अभियान चलाएगी और कम से कम एक करोड़ लोगों के हस्ताक्षर के साथ ज्ञापन तैयार किया जाएगा। इसके बाद 2 फरवरी को पटना में आक्रोश मार्च निकाला जाएगा और राज्यपाल को ज्ञापन सौंपा जाएगा।

यह भी पढ़ेंः कमल की चाह में ललन पासवान, करेंगे अपने इरादे का खुलासा

यह भी पढ़ेंः बिहार में अनंत सिंह की लालटेन जलाने की साध अधूरी रहेगी

- Advertisement -