प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात में झारखंड के शहीदों को याद किया

0
14

रांची। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात में झारखंड के शहीदों को याद किया। प्रधानमंत्री ने कहा कि स्वतंत्रता के आंदोलन में सपूतों का अमूल्य योगदान है। प्रधानमंत्री ने वीर सिदो कान्हू, चांद भैरव और वीरांगना फूलो झानो तथा झारखंड उलगुलान के नायक धरती आबा भगवान बिरसा मुंडा को को मन की बात में याद किया।

यह भी पढ़ेंः नालंदा में तालाब खोदते वक्त मिली अति प्राचीन मूर्तियां

- Advertisement -

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने प्रधानमंत्री के मन की बात सुनने के बाद कहा कि अंग्रेजों के शोषण और गरीबी के खिलाफ शंखनाद इसी धरा से हुई। वीर सिदो कान्हू, चांद भैरव और वीरांगना फूलो झानो ने इस आंदोलन में अपने प्राणों की आहुति दी थी। मैं उनको शीश नवा कर नमन करता हूँ।

यह भी पढ़ेंः अवैध शराब का धंधा करने वालों को सलाखों के पीछे भेजेंः रघुवर

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री ने जल संचयन और प्रबंधन पर बल दिया। यह समय की मांग है। जल संचयन और प्रबंधन के लिए जागरूकता जरूरी है। 7 जुलाई से इस दिशा में अभियान चलाया जाएगा। मुख्यमंत्री, मंत्री गण, सांसद, विधायक, मुख्य सचिव, सचिव सभी लोग जल संचयन और प्रबंधन की दिशा में श्रमदान करेंगे। राज्य के लोगों को इस दिशा में अपनी भागीदारी सुनिश्चित करनी होगी। प्रधानमंत्री द्वारा देश के सभी मुखिया को लिखे गए पत्र ने अपना प्रभाव दिखना शुरू कर दिया है। हजारीबाग समेत राज्य के अन्य जिलों में जल प्रबंधन और संचयन हेतु कार्य आरंभ हो चुके हैं। यह शुभ संकेत है।

यह भी पढ़ेंः रिम्स में मरीजों को निजी अस्पताल जैसी व्यवस्था का निर्देश

मुख्यमंत्री ने कहा कि विगत साढ़े 4 साल में सरकार द्वारा जल प्रबंधन हेतु तालाबों की खुदाई और जीर्णोद्धार किया गया, जिसका भरपूर उपयोग राज्य के किसानों ने किया और अपनी आपार क्षमता का प्रदर्शन करते हुए 2014 की कृषि विकास दर -4% को बढ़ा कर +14% कर दिया।

यह भी पढ़ेंः झारखंड में और 14 लाख महिलाओं को मिलेगी धुएं से मुक्ति

- Advertisement -