प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बने दुनिया के सबसे ताकतवर शख्स: राजीव

0
91
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
भाजपा प्रवक्ता राजीव रंजन
भाजपा प्रवक्ता राजीव रंजन

पटना। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पूरी दुनिया में शीर्ष पर पहुंच गये हैं। नरेद्र मोदी की लोकप्रियता बढ़ती जा रही है। भाजपा प्रदेश प्रवक्ता राजीव रंजन ने यह कहा। उन्होंने कहा कि  अब प्रधानमंत्री मोदी को ब्रिटिश हेराल्ड के एक पोल में दुनिया का सबसे ताकतवर शख्स चुना गया है। इस पोल में उन्होंने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन और चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग को भी पीछे छोड़ दिया है।

इस पोल में प्रधानमंत्री मोदी को सबसे ज्यादा 30.9 प्रतिशत वोट मिले हैं, जबकि रूस के राष्ट्रपति पुतिन को 29.9 प्रतिशत, अमेरिकी राष्ट्रपति को 21.9 प्रतिशत और चीन के राष्ट्रपति को 18.1 प्रतिशत वोट मिले हैं। गौर करने वाली बात यह है की चीन और अमेरिका के राष्ट्रपतियों और मोदी जी के बीच का अंतर 10% से भी अधिक है, जो प्रधानमंत्री के दुनिया में बढ़े प्रभाव को दर्शाता है।

- Advertisement -

यह भी पढ़ेंः योग को नरेंद्र मोदी ने पूरे विश्व में स्थापित कियाः रघुवर

बताते चलें कि इस पोल के नॉमिनेशन लिस्ट में दुनिया की 25 से ज्यादा हस्तियों को शामिल किया गया था और जज करने वाले पैनल एक्सपर्ट्स ने सबसे ताकतवर शख्स के तमगे के लिए 4 उम्मीदवारों का नाम सामने रखा। इनमें से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सबसे ज्यादा मतों से दुनिया के सबसे ताकतवर शख्स के तौर पर चुने गए। प्रधानमंत्री मोदी की तस्वीर ब्रिटिश हेराल्ड मैगजीन के जुलाई संस्करण के कवर पेज पर भी प्रकाशित की जाएगी।

यह भी पढ़ेंः 2030 तक दुनिया की दूसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनेगा भारत: BJP 

दरअसल प्रधानमंत्री के दमदार नेतृत्व और उनकी प्रभावी नीतियों से भारत एक ग्लोबल ताकत बन चुका है। महज पांच वर्षों में ही प्रधानमंत्री मोदी ने जिस तरह से भारत को विकास के सारे मापदन्डों पर आगे बढ़ाया है, उसकी तारीफ आज हर तरफ हो रही है। यह मोदी जी के कूटनीतिक कौशल का ही कमाल है कि आज चीन और पाकिस्तान दोनों की हेकड़ी भारत के सामने बंद है। आतंकवाद और जलवायु परिवर्तन जैसे गंभीर वैश्विक मुद्दों पर आज भारत ही दुनिया का नेतृत्व कर रहा है। भारत की पहल पर ही आज पूरा विश्व योग मना रहा है, वहीं ‘अंतर्राष्ट्रीय सौर संगठन’ जैसे संगठनों का निर्माण भी मोदी सरकार ने ही मुमकिन किया है।

- Advertisement -