प्रशांत किशोर जदयू में शामिल, एनडीए को मजबूत करेंगे

0
102

पटना। चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर जनतास दल यूनाइटेड में शामिल हो गये हैं। आज किसी भी वक्त उनके जदयू का हिस्सा होने की घोषणा नीतीश कुमार कर सकते हैं। जदयू कार्यकारिणी की आज अहम बैठक हो रही है। समझा जाता है कि आज की बैठक में 2019 की चुनावी रणनीति पर पार्टी विचार करेगी। बैठक शुरू होने के पहले ही प्रशांत किशोर, जो पीके के नाम से बिहार में मशहूर हैं, ने जदयू की औपचारिक सदस्यता ग्रहण की थी।

चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर कुछ हगी दिन पहले इसका संकेत देस दिया था। हैदराबाद में INDIAN INSTITUTE OF BUSINESS के छात्रों के साथ संवाद में उन्होंने कहा था कि वह दूसरों के लिए अभी तक चुनावी अभियान में शामिल रहे हैं। अब वह खुद जमीनी राजनीति से जुड़ना चाहते हैं।

- Advertisement -

प्रशांत किशोर ने 2014 में नरेंद्र मोदी के लिए चुनावी रणनीति बनायी थी। लेकिन सरकार बनने के बाद अमित शाह से उनकी खटपट हो गयी। नतीजतन 2015 के विधानसभा चुनाव में वह नीतीश कुमार के नेतृत्व वाले जदयू के लिए रणनीति तैयार करने में जुट गये। बताते हैं कि उन्हीं की सलाह पर धुर विरोधी लालू प्रसाद के आरजेडी से महागठबंधन के लिए नीतीश तैयार हुए थे और इसका परिणाम भी सामने दिखा था। उनकी रणनीति सफल रही और 2015 के Bihar Assembly Election में उनकी बनायी रणनीति का परिणाम महागठबंधन की सरकार के रूप में सामने आया। उत्तरप्रदेश के चुनाव में Congress ने उनकी मदद ली, लेकिन उसे कामयाबी नहीं मिली।

प्रशांत किशोर मूलतः बिहार के बक्सर के रहने वाले हैं। उन्हें नीतीश कुमार का काफी करीबी माना जाता है। नजदीकी का आलम यह रहा कि चुनाव में जीत हासिल करने के बाद सलाहकार के रूप में नीतीश ने उन्हें मंत्री तक का दर्जा दे दिया। महागठबंधन से अलग होकर जदयू ने भाजपा के साथ सरकार बना ली, उसके बाद से प्रशांत किशोर गुमनाम हो गये थे।

माना जा रहा है कि प्रशांत बिहार से ही जदयू के टिकट पर चुनाव लड़ेंगे। इस बार तो जदयू के साथ भाजपा भी है और प्रशांत किशोर ने अलग-अलग मौकों पर दोनों का साथ दिया है। इसलिए उनकी उम्मीदवारी पर किसी को आपत्ति तो नहीं होगी। उनकी जीत भी पक्की हो सकती है। हालांकि प्रशांत ने अभी तक यह संकेत नहीं दिया है कि वह कहां से चुनाव लड़ेंगे, लेकिन नीतीश से उनके अच्छे रिश्तों को देखते हुए राजनीतिक पंडित यह अनुमान लगा रहे हैं कि वह जदयू के टिकट पर मनचाही सीट चुनाव लड़ेंगे।

sarthaksamay.com ने 10 सितंबर को ही इस बात का संकेत दिया था कि प्रशांत किशोर जदयू के टिकट पर बिहार से चुनाव लड़ सकते हैं। आज वह बात सच साबित हुई।

यह भी पढ़ेंः BIHAR में शुरू हुआ MISSION- 2019 पर सभी दलों का मंथन

- Advertisement -