आरा शहर में जमीन के विवाद में गरजीं बंदूकें, एक की मौत

0
93
अपराध
अपराध
  • आरा शहर में जमीन के विवाद में डेढ़ साल बाद दूसरी बड़ी घटना
  • पिछले साल दो जुलाई को गोला कारोबारी कृष्णा सिंह की हुई थी हत्या
  • इमरान खान की हत्या के बाद व्यवसायी हत्याकांड की यादें हुई ताजा

आरा। शहर में जमीन के विवाद में डेढ़ साल बाद एक बड़ी वारदात को अंजाम दिया गया। बंदूकें गरजीं और गोलियों से छलनी होकर एक ने दम तोड़ दिया। हत्या व फायरिंग की इस वारदात ने पिछले साल हुई वगोला कारोबारी कृष्णा सिंह उर्फ कुमार जी हत्याकांड की यादें ताजा हो गयीं। बता दें कि पिछले साल 2 जुलाई की सुबह करीब दस बजे नगर थाना के मीरगंज पड़ाव के समीप चर्चित गोला कारोबारी कृष्णा सिंह उर्फ कुमार जी को गोलियों से भून दिया गया था। उनकी हत्या भी जमीन पर कब्जे को लेकर की गयी थी।

अंधाधुंध फायरिंग कर उन्हें मौत के घाट उतार दिया गया था। उन्हें 23 गोलियां मारी गयी थीं। उस मामले में 10 लोगों के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज करायी गयी थी। उस मामले में भी एक हिस्ट्रीशटर चांद मियां व उसके भाई नईम को आरोपित किया गया था।

- Advertisement -

ठीक उसी अंदाज में गुरुवार को भी धर्मन चौक पर व्यवसायी इमरान को भून दिया गया। इस बार भी हमलावरों द्वारा अंधाधुंध फायरिंग की गयी। इनमें इमरान को छह गोलियां लगी हैं। फायरिंग में इमरान के बड़े भाई सहित दो अन्य लोग भी जख्मी हो गये हैं। इस मामले में भी हिस्ट्रीशीटर खुर्शीद कुरैशी व उसके भाई समेत नौ के खिलाफ केस किया गया है।

भभुआ जिले में पेड़ से लटकता पाया गया 28 वर्षीय युवक का शव

उधर भभुआ जिले के दुर्गावती थाना क्षेत्र में 28 वर्षीय एक युवक का शव पेड़ से लटकता पाया गया। मिली जानकारी के अनुसार युवक का शव दुर्गावती थाना क्षेत्र के करणपुरा पिपरा ग्राम के बीच स्थित गया-मुगलसराय रेलखंड के बगल में उत्तर तरफ स्थित एक शीशम के बगीचे में पेड़ से लटकता पाया गया। जब ग्रामीणों ने शव को देखा तो उसकी सूचना दुर्गावती थाने की पुलिस को दी। उसके बाद घटनास्थल पर पुलिस पहुंची। मृतक युवक उजले रंग का जैकेट पहने था।

- Advertisement -