जानिए, किसकी वजह से सम्मान व सुरक्षा मिल रही महिलाओं को

0
36
बीजेपी ने आरजेडी से पूछा है कि उसके नेता तेजस्वी यादव इन दिनों कहां हैं। वे देश में हैं या विदेश, आरजेडी को पहले यह बताना चाहिए।
बीजेपी ने आरजेडी से पूछा है कि उसके नेता तेजस्वी यादव इन दिनों कहां हैं। वे देश में हैं या विदेश, आरजेडी को पहले यह बताना चाहिए।

बिहार प्रदेश भाजपा प्रवक्ता राजीव रंजन ने सारा श्रेय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दिया

पटना। महिलाओं के सम्मान तथा सुरक्षा के लिए केंद्र सरकार प्रतिबद्ध है। भाजपा के बिहार प्रदेश प्रवक्ता सह पूर्व विधायक श्री राजीव रंजन ने कहा कि मोदी सरकार ने महिलाओं के लिए जितना किया है, उतना अब तक किसी सरकार ने नहीं किया। उन्होंने कहा कि याद करें तो महिलाओं की सम्मान-सुरक्षा का मुद्दा पहले भी बराबर उठा करता था, लेकिन तब की सरकार ने खोखले वादों के अलावा इस पर कुछ ठोस कदम उठाने की जरूरत कभी नही समझी। उन्होंने कहा कि पहली बार किसी सरकार ने महिलाओं को रसोई के काले धुएं से मुक्ति दिलाने के लिए उज्ज्वला जैसी योजना की शुरुआत की, जिसके तहत आज 6 करोड़ से अधिक महिलाओं को निःशुल्क गैस कनेक्शन दिए जा चुके हैं। पहली बार जनधन योजना के तहत तकरीबन 15 करोड़ महिलाओं को बैंकिंग सेवाओं से जोड़ा गया।

2014 में सत्ता में आने के बाद से ही प्रधानमन्त्री जी ने इस विषय की गंभीरता को समझा और महिलाओं की छोटी-बड़ी हर समस्या का समाधान करने का भरपूर प्रयास किया। पहली बार महिलाओं के आर्थिक, सामाजिक और कार्यक्षेत्र की परेशानियों से लेकर उनकी घरेलू समस्याओं तक के हल निकालने की दिशा में ईमानदार प्रयास किए गए, जिनके परिणाम आज सबके सामने है।

- Advertisement -

उन्होंने कहा कि पहली बार किसी सरकार ने महिलाओं को रसोई के काले धुएं से मुक्ति दिलाने के लिए उज्ज्वला जैसी योजना की शुरुआत की, जिसके तहत आज 6 करोड़ से अधिक महिलाओं को निःशुल्क गैस कनेक्शन दिए जा चुके हैं। पहली बार जनधन योजना के तहत तकरीबन 15 करोड़ महिलाओं को बैंकिंग सेवाओं से जोड़ा गया। पहली बार ही किसी सरकार ने उनके सशक्तीकरण और स्वावलंबन के लिए मुद्रा जैसी योजना शुरू की, जिसके तहत 10 करोड़ से अधिक महिलाओं को रोजगार के लिए ऋण प्रदान किए गए।

यह भी पढ़ेंः युवाओं के लिए क्रांतिकारी कदम है डिजिटल इंडिया : राजीव रंजन

मोदी सरकार ने ही महिलाओं के सम्मान की रक्षा के लिए पूरे देश में 9 करोड़ से अधिक शौचालयों का निर्माण करवाया। स्टैंड-अप इंडिया और कौशल विकास जैसी योजनाओं द्वारा महिलाओं की उद्यमिता और कौशल निखारने की दिशा में सार्थक प्रयास किए गए। इसी सरकार ने कामकाजी महिलाओं के लिए मातृत्व अवकाश को 12 हफ्ते से बढ़ा कर 26 हफ्ते करने का सराहनीय काम किया। यही नहीं, पहली बार देश में कन्या भ्रूण हत्या रोकने के लिए ‘बेटी बचाओ-बेटी पढाओ’ जैसे अभियान की शुरुआत करने का श्रेय भी इसी सरकार को जाता है, जिसके परिणामस्वरूप आज देश में लड़कों के अनुपात में लड़कियों की संख्या में हो रही बढ़ोतरी साफ देखी जा सकती है। जाहिर है कि मोदी सरकार ने महिलाओं के विकास के लिए काफी कुछ किया है, जिसका असर समाज में स्पष्ट देखा जा सकता है।

यह भी पढ़ेंः

सवर्ण आरक्षण के मुद्दे ने आरजेडी में पैदा कर दी है खटास

बिहार का छोरा ले आया बुल्गारिया की बहू, रचाई शादी

दारोगा के कहने पर घूस ले रहा सिपाही नवादा में गिरफ्तार

समस्तीपुर में डेयरी संयंत्र व बिहिया में  पशु आहार कारखाना लगेंगे

दो सगी बहनों को चाकू मारा, एक की मौत, दूसरे की हालत गंभीर

अब उत्तर प्रदेश में भी जदयू ने मांगी सम्मानजनक हिस्सेदारी

- Advertisement -