2700 करोड़ की रक्षा खरीद को मिली मंजूरी, सशक्त हुई भारतीय सेना 

0
98
प्रधानमंत्री मोदी नरें

पटना। भारतीय सेना को ताकतवर बनाने की दिशा में मोदी सरकार द्वारा उठाए जा रहे क़दमों के बारे में बताते हुए भाजपा प्रदेश प्रवक्ता सह पूर्व विधायक राजीव रंजन ने कहा कि सत्ता में आने के अपने पहले दिन से मोदी सरकार भारतीय सेना को सशक्त बनाने में जुटी है। सरकार इसके लिए मिशन मोड में कार्यरत रही है। सरकार की प्रतिबद्धता से बीते पांच वर्षों में सेना को वह सब साजोसामान मुहैया कराए गए, जिनके लिए सेना दशकों से मांग करती रही थी। भारतीय सेना को मजबूत और आधुनिक बनाने के लिए एक और बड़ा फैसला करते हुए केंद्र सरकार ने 2700 करोड़ रुपए की एक और रक्षा खरीद को मंजूरी दे दी है।

श्री रंजन ने कहा कि इस खरीद के तहत भारतीय नौसेना के लिए तीन कैडेट प्रशिक्षण जहाजों की खरीद के लिए मंजूरी दी गई है, जिसका इस्तेमाल प्रशिक्षु महिला अधिकारियों समेत अधिकारी कैडेट को बुनियादी समुद्री प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए किया जाएगा। इससे पहले रक्षा मंत्रालय ने अमेरिका से 73,000 असॉल्ट राइफलों की खरीद को मंजूरी दी थी।

- Advertisement -

यह भी पढ़ेंः जदयू ने पटना में पीएम के सामने दिखायी बड़े भाई की औकात 

इन राइफलों का इस्तेमाल चीन से लगती 3,600 किमी लंबी सीमा पर तैनात जवान करेंगे। भारत ने रूस के साथ 3000 करोड़ रुपये की रक्षा खरीद का सौदा भी किया है, जिससे भारत की सामरिक शक्ति काफी बढ़ जाएगी। वहीं सीमाओं की सुरक्षा के लिए अक्टूबर 2018 में रूस और भारत के बीच अत्याधुनिक S-400 डील पर समझौता हो चुका है।

यह भी पढ़ेंः यातायात नियमों का पालन डर से नहीं, अच्छे नागरिक के नाते करें

यह भी पढ़ेंः विश्व मंच पर मोदी ने दिखाई हैसियत, पाकिस्तान की हालत बनी पतली

- Advertisement -