छह रूपये की लॉटरी ने मजदूर की किस्मत बदल दी, बना करोड़पति

0
56
6 रुपये के लाटरी टिकट ने मजदूर को बना दिया करोड़पति
6 रुपये के लाटरी टिकट ने मजदूर को बना दिया करोड़पति

अलीपुरदुआर (पश्चिम बंगाल)। छह रूपये की लॉटरी ने एक मजदूर की किस्मत बदल दी। चाय बागान का वह मजदूर अब करोड़पति हो गया है। उसे लाटरी का पहला पुरस्कार मिला है। अलीपुरदुआर जिले के कालचीनी ब्लॉक के संताली चाय बगान के श्रमिक को करोड़पति बना दिया। पाइकास बाकला अब करोड़पति बन गये हैं। संताली चाय बगान के थॉमस लाइन निवासी पाइकास बाकला ने कल कल शाम हासीमारा चौराहे से छह रुपये में लाटरी का टिकट ख़रीदा था। कल रात ही उन्हें पता चला कि वे प्रथम पुरस्कार जीत गये हैं।  इसके बाद उनकी ख़ुशी का ठिकाना नहीं रहा। पाइकास बाकला ने बताया कि वे इनाम के  कुछ पैसे चर्च को दान करेंगे। इसके बाद बचे पैसे को अनाथ व असहाय चाय बागान के  श्रमिकों के कल्याण पर खर्च करेंगे।

केंद्रीय मंत्री देवश्री चौधुरी का काफिला रोक महिलाओं ने किया प्रदर्शन

उधर उत्तर दिनाजपुर के रायगंज में केंद्रीय नारी व शिशु कल्याण राज्य मंत्री देवश्री चौधरी को बुधवार अपने संसदीय क्षेत्र रायगंज में लोगों के विरोध का सामना करना पड़ा।  सीएए के समर्थन में यहाँ पहुंचीं मंत्री के काफिले को कुछ महिलाओं ने रोककर उनके खिलाफ प्रदर्शन किया।

- Advertisement -

प्रदर्शन कर रहीं इन महिलाओं ने बताया इस क्षेत्र से राधिकापुर से कोलकाता सुबह की ट्रेन चालू करने की दिशा में सांसद देवश्री चौधुरी ने कोई कदम नहीं उठाया।

इसके साथ ही ये लोग सीएए व एनआरसी का विरोध कर रहे थे।  इन लोगों ने कहा कि इलाके की विभिन्न समस्याओं के  समाधान को लेकर सांसद सह मंत्री  ज्यादा गंभीर नहीं दिख रही हैं। प्रदर्शनकारियों ने बताया कि चुनाव का लंबे समय बीत जाने के बाद भी केंद्रीय मंत्री अपने आश्वासन को पूरा करने की दिशा में कोई कदम उठाती नहीं दिख रही हैं।

ऊपर से केंद्र सरकार द्वारा  सीएए व एनआरसी को लेकर इलाके के लोगों की मुसीबतें बढ़ गयी हैं। लोगों को अपने कागजात में संशोधन कराने के लिए घंटों  लाइन में खड़ा होना पड़ रहा है। इन सबको लेकर रायगंज के इंदिरा कॉलेज इलाके की कुछ  महिलाओं ने आज मंत्री का काफिला रोककर उनके वाहन के सामने प्रदर्शन करना शुरू कर दिया। इस दौरान प्रदर्शनकारियों के साथ भाजपा महिला मोर्चा की कार्यकर्ताओं के साथ  विवाद भी हुआ।  हालांकि स्थानीय नेताओं की मध्यस्थता से मामला शांत हो गया।

बाद में आंदोलनकारियों ने मंत्री देवश्री  चौधरी के साथ अपनी समस्याओं को लेकर बातचीत की। दूसरी ओर  केंद्रीय मंत्री व स्थानीय सांसद देवश्री  चौधरी ने इन सारे विवादों को विरोधियों की साजिश करार दिया। उन्होंने कहा कि विपक्षी पार्टी का  जनाधार लगातार घटता  जा रहा है। इससे बौखला कर वे इस तरह की घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि रायगंज नगर पालिका  इलाके में वे आज सीएए को लेकर प्रचार कर रही थीं। जैसे ही उनका काफिला इंदिरा कॉलेज इलाके में पंहुचा , वहां मौजूद कुछ  महिलाओं ने उनके काफिले को रोक का विरोध प्रदर्शन शुरू कर दिया।

यह भी पढ़ेंः भाजपा का हमला, कहा- पॉकेट पार्टी बन चुकी है कांग्रेस

- Advertisement -