बेगूसराय में कपड़े और मेवा की दुकान जली, महिला भी झुलसी

0
43
  • लाखों रुपए का सामान जलकर हुआ खाक
  • दुकानदार की मां लीला देवी आग से झुलसीं
  • बैंक ऑफ बड़ौदा की शाखा आग से बची
  • दो दमकल की गाड़ियां ने बुझायी आग

 बेगूसराय। बिहार बेगूसराय में मंगलवार की रात 10.45 बजे शहर के मेन रोड स्थित लाडो फैशन व मेवा स्टोर में भीषण आग लग  गयी। आग की लपटें देखकर शहर में हड़कंप मच गया। हजारों लोगों की भीड़ जमा हो गयी। आग की लपटें इतनी अधिक थीं कि किसी आदमी को आग के नजदीक जाने की हिम्मत नहीं होती थी। बैंक आफ बड़ौदा की शाखा संयोग से सटी होने के बावजूद आग से अछूती रही।

आनन-फानन में स्थानीय लोगों ने दमकल की टीम को सूचना दी। मौके पर दो दमकल की गाड़ियां पहुंचीं और घंटों मशक्कत करने के बाद आग को बुझाया। तब तक दुकान में रखे कपड़े और फर्नीचर जल कर खाक हो गये थे। आग लगने का कारण दुकानदार ने बताया बिजली के द्वारा शॉर्ट सर्किट से आग लगी।

- Advertisement -

इस आग की घटना में जले कपड़े के दुकानदार अवध राय के दोनों पुत्र कन्हैया राय और सूरज राय ने मीडिया को बताया कि हमने अपने जीवन की गाढ़ी कमाई से फर्नीचर और कपड़े की दुकान खोलने में 12 लाख रुपये लगाए थे। दुर्गा पूजा को लेकर लगभग पाँच लाख रुपये के कपड़ों का नया स्टाक मंगवाये थे। 3 माह पहले इस दुकान की ओपनिंग 9 जुलाई 2018 को हुई थी। 9 अक्टूबर की रात में आग लगने के कारण दुकान का सब कपड़ा जलकर खाक हो गया।

इस आग लगने की घटना में दुकानदार के ऊपर बने घर में रह रही उनकी मां लीला देवी (45 वर्ष) आग की चपेट में आने के कारण बुरी तरह से झुलस गई हैं। उनका इलाज शहर के एक निजी क्लीनिक पोखरिया बिशनपुर स्थित डॉ रंजन के यहां चल रहा है। दुकान के सामने पड़ोसी कपड़े के दुकानदार रिकेश कुमार मंडल ने बताया कि जिस समय दुकान में आग लगी थी, उस समय किसी भी आदमी को दुकान के नजदीक पहुंचने की हिम्मत नहीं होती थी। फिर भी हम लोगों ने हिम्मत जुटाकर घर में फंसी दुकानदार की मां और उसके घर से दो गैस भरे सिलेंडर को किसी तरह बाहर निकाला। अगर गैस सिलेण्डर नहीं निकाला जाता तो एक बड़े हादसे से कोई रोक नहीं सकता था।

बगल में फ्रिज की दुकान और पीछे में सटी बैंक ऑफ बड़ौदा की शाखा में अगर आग लग जाती तो आग पर काबू पाना बड़ा मुश्किल था। घटनास्थल पर आग लगने की सूचना पाकर टाउन थाना की पुलिस और आसपास के हजारों लोगों ने काफी परिश्रम कर आग बुझाने में सहयोग किया।

यह भी पढ़ेंः प्रमोशन में आरक्षण पर अंतिम फैसला कोर्ट ही करेगा

- Advertisement -