18 नवंबर को नहीं होगा पिछड़ा-अतिपिछड़ा महासम्मेलन 

0
65

भाजपा प्रदेश प्रवक्ता व पूर्व विधायक जीव रंजन कहा- नयी तिथि की घोषणा जल्द

पटना। 18 नवंबर को आयोजित होने वाले बहुप्रतीक्षित पिछड़ा-अतिपिछड़ा महासम्मेलन की तारीख में बदलाव हो गया है। यह जानकारी देते हुए इस महासम्मेलन के अध्यक्ष सह पूर्व विधायक श्री राजीव रंजन ने नयी तारीख की घोषणा जल्द करने की बात कही।

उन्होंने कहा कि पिछड़े-अतिपिछड़े समाज की लगातार बढ़ रही अपेक्षाओं तथा कुछ अन्य अपरिहार्य कारणों से हमारी समिति द्वारा आगामी 18 नवंबर को आयोजित होने वाले पिछड़ा-अतिपिछड़ा महासम्मेलन की तारीख में बदलाव करने का फैसला किया गया है। जल्द ही नई तारीख तय कर के उसकी घोषणा की जाएगी।

- Advertisement -

पिछड़ा-अतिपिछड़ा समाज में इस महासम्मेलन की लोकप्रियता में निरंतर प्रगति होने का दावा करते हुए श्री रंजन ने बताया कि पिछड़ा-अतिपिछड़ा समाज को एकजुट करने तथा उनके विकास के लिए जरूरी कुछ अन्य मांगों को सरकार के सम्मुख रखने के लिए चलाए जा रहे हमारे इस अभियान के काफी सकारात्मक परिणाम सामने आ रहे हैं। इस महासम्मेलन के उद्देश्यों को जनता के बीच प्रचारित करने के लिए राज्य के कोने-कोने में दिन-रात जुटे हुए हमारे कार्यकर्ताओं को जनता की तरफ से काफी अच्छी प्रतिक्रिया और सुझाव मिल रहे हैं। कार्यकर्ताओं के मुताबिक आज धरातल पर पिछड़ा-अतिपिछड़ा समाज के लोग इस अभियान को लेकर काफी उत्साह दिखा रहे हैं, जिसका परिणाम आगामी लोकसभा चुनावों में जरूर दिखेगा।

श्री रंजन ने आगे कहा कि अभी तक जनता के जो रुझान सामने आए हैं, उससे साफ़ हो चला है कि हमारा यह अभियान हमारे समाज के खिलाफ विभिन्न राजनीतिक दलों द्वारा किए जा रहे साजिशों का भंडाफोड़ करने में सफ़ल साबित हो रहा है। इस अभियान से हमारे समाज के लोगों की काफी उम्मीदे जुड़ चुकी हैं, जिससे निश्चित ही इस महासम्मेलन में उनकी सहभागिता बढ़ जाएगी। हमारे समाज के लोग यह मान रहे हैं कि अगर उन्हें सरकार द्वारा चलायी जा रही विकास योजनाओं का ज्यादा से ज्यादा लाभ लेना है तो उन्हें अपने समाज में एकजुटता लानी ही होगी। आने वाले समय में हम समाज से हासिल हुए कुछ अन्य सुझावों को भी अपनी मांगों में शामिल करते हुए इस महासम्मेलन को और व्यापक तथा भव्य तरीके से आयोजित करेंगे, जिसकी तिथि जल्द घोषित की जायेगी।

यह भी पढ़ेंः मध्यप्रदेशः भाजपा की जीत के दावे में लोचे भी कम नहीं हैं

- Advertisement -