चुनाव घोषणापत्र के लिए हर समुदाय से राय ले रही कांग्रेस

0
61

पटना में अल्पसंख्यक समुदाय के सुझाव कांग्रेस नेताओं ने सुने

पटना। भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने मिशन 2019 के अंतर्गत एक व्यापक जन संपर्क प्रक्रिया प्रारम्भ कर दी है। यह देश के विभिन्न राज्यों में विभिन्न सामजिक मुद्दों पर जन संवाद एवं विमर्श आयोजित कर लोगों के सुझाव को आमंत्रित कर रही है। इसे पार्टी के मैनिफैस्टो में शामिल किया जायेगा। इसीलिए इस जन संवाद स्थापित करने के कार्यक्रम को जन आवाज-आपकी आवाज का नाम दिया गया है। इसी क्रम में बिहार में भी विभिन्न जन सवादों का आयोजन करना है। शनिवार को पहला विमर्श अल्पसंख्यक समुदाय के साथ पटना में के एक होटल में बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अल्पसंख्यक प्रकोष्ठ द्वारा आयोजित किया गया। इस आयोजन में विभिन्न समुदाययों ने कांग्रेस मेनिफेस्टो 2019 के लिए अपने-अपने सुझाव दिए। इस अवसर पर अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के सचिव एवं मेनिफेस्टो कमिटी के सदस्य सचिन राव भी उपस्थित थे।

लोगों के सुझाव से यह स्पष्ट हुआ कि कांग्रेस आम जनता की पार्टी है और आवाम के साथ इस तरह से सीधे संवाद स्थापित कर पार्टी मेनिफेस्टो को एक मजबूत आधार प्रदान कर रही है। सुझावों में एक स्वर से लोगों का यह मानना था कि देश में अभी भय का माहौल है। शांति एवं सुरक्षा का घोर अभाव है। लोग आज के समय में भय के वातावरण में जी रहे हैं। हत्या, बलात्कार, मॉब लिन्चिंग आज आम बात हो गई है। इससे लोग निकलना चाहते हैं। सभी लोगों ने यह भरोसा जताया कि आज के दिन में कांग्रेस ही एकमात्र पार्टी है, जो देश में सुख, शांति एवं समृद्धि बहाल कर सकती है। सभी समुदायें के लोगों ने एक स्वर में मांग की कि एक समृद्ध शिक्षा व्यवस्था एवं सुरक्षा व्यवस्था पार्टी के मेनिफेस्टो का मूल अंग हो। हर समुदाय को भारत में सम्मान से भयमुक्त वातावरण में जीने का हक मिले।

- Advertisement -

इस अवसर पर अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के सचिव एवं मेनिफेस्टो कमिटी के सदस्य सचिन राव ने सभी समुदाय के प्रतिनिधियों के प्रति अपना आभार व्यक्त करते हुए कहा कि आप की उपस्थिति यह प्रमाणित करती है कि कांग्रेस पार्टी सभी वर्गों एवं समुदायों की पार्टी है और एकमात्र ऐसी पार्टी है, जो संविधान को सुरक्षा प्रदान कर सकती है और प्रजातंत्र को देश में जीवित रख सकती है। भारत एक प्रकिया है, जिसका विश्वास निरंतरता में है। यह एक सिस्टम है, जो हम सब से मिल कर बनी है। इसे अखंड रखना ही कांग्रेस पार्टी का मूल उद्देश्य है।

उन्होंने सभी संस्थाओं  के प्रतिनिधियों को यह आश्वाशन दिया कि उनके अधिकांश सुझाव को पार्टी  मेनिफेस्टो में शामिल किया जाने का प्रयास होगा। इस अवसर पर अखिल भारतीय कांग्रेस रिसर्च टीम के प्रतिनिधि हर्षवर्धन श्याम ने इसकी रूपरेखा बताते हुए इसके उद्देश्य पर प्रकाश डाला। कांग्रेस पार्टी के  विधायक जलील मस्तान, बंटी चौधरी, अमित सिंह टुन्ना, राजेश राम, डॉक्टर शकील अहमद खान, विधान पार्षद प्रेमचंद मिश्रा, कार्यकारी अध्यक्ष श्याम सुन्दर सिंह धीरज, समीर सिंह, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता विकास कृष्ण सिंह, जया मिश्रा, परवेज़ अहमद अदि शामिल हुए। बिहार प्रदेश कांग्रेस मेनिफेस्टो  कमिटी के अध्यक्ष आनंद माधव ने धन्यवाद ज्ञापन किया। बिहार कांग्रेस माइनॉरिटी के अध्यक्ष मिन्नत रहमानी ने अतिथियों का स्वागत एवं मंच का संचालन किया।

यह भी पढ़ेंः बिहार को विशेष दर्जे की जरूरत समझाई नीतीश कुमार ने

- Advertisement -