पश्चिम बंगाल की हिंसा पर कलकत्ता हाईकोर्ट ने रिपोर्ट मांगी

0
250
पश्चिम बंगाल में चुनाव नतीजों के बाद हो रही हिंसक वारदात पर कलकत्ता हाईकोर्ट ने पश्चिम बंगाल के होम सेक्रेटरी से रिपोर्ट मांगी है।
पश्चिम बंगाल में चुनाव नतीजों के बाद हो रही हिंसक वारदात पर कलकत्ता हाईकोर्ट ने पश्चिम बंगाल के होम सेक्रेटरी से रिपोर्ट मांगी है।

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में चुनाव नतीजों के बाद हो रही हिंसक वारदात पर कलकत्ता हाईकोर्ट ने पश्चिम बंगाल के होम सेक्रेटरी से रिपोर्ट मांगी है। हाईकोर्ट इस मामले पर 10 मई को अगली सुनवाई करेगा। इधर यह मामला ठंडा पड़ता दिखाई नहीं दे रहा है।

भाजपा महिला मोर्चा के धरना पर रोक

पश्चिम बंगाल में हिंसा के प्रतिवाद में धर्मतल्ला में भाजपा महिला मोर्चा द्वारा आज आयोजित धरना कार्यक्रम को पुलिस ने इजाजत नहीं दी। धरना के लिए पहंचीं रूपा गांगुली, अग्निमित्रा पाल सहित कई महिलाओं को गिरफ्तार किया गया, जिन्हें बाद में पुलिस ने रिहा कर दिया।

- Advertisement -

हिंसक पोस्ट करने वाले 2 गिरफ्तार

इस बीच चुनाव बाद की हिंसा संबंधी सोशल मीडिया पर पोस्ट लगाने वाले रामकृष्ण मिशन के दो विद्यार्थियों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस को सूचनाएं मिली थीं कि हिंसा दर्शाती पुरानी या दूसरे स्थानों की उपद्रव की तस्वीरें सोशल मीडिया पर पोस्ट की जा रही हैं। इसी क्रम में दोनों छात्रों की गिरफ्तारी हुई है।

चुनाव आयोग के काउंसिल एडवोकेट का इस्तीफा

पश्चिम बंगाल में चुनाव बीत जाने के बाद तृणमूल और भाजपा के बीच तनातनी खत्म होने का नाम नहीं ले रही है। नैतिकता और मूल्य बोध का हवाला देकर निर्वाचन आयोग के काउंसिल एडवोकेट मोहित डी राम ने पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने आयोग के कामकाज के तरीके पर नाराजगी जतायी है।

दूसरी तरफ शीतलकूची में गोली से मारे गए भाजपा समर्थक युवक का परिवार ममता बनर्जी के साथ आ गया है। ममता ने मारे गये लोगों के लिए 2 लाख रुपये के मुआवजा और परिवार के एकक सदस्य को होमगार्ड की नौकरी की पेशकश की थी। इसी क्रम में मारे गये भाजपा समर्थक के परिवार के एक सदस्य ने होमगार्ड की नौकरी की पेशकश कबूल कर ली है।

भाजपा विधानसभा सत्र का बायकाट करेगी

8 मई से शुरू हो रहे विधानसभा के विशेष सत्र में विधानसभा अध्यक्ष का चुनाव होना है। भाजपा सत्र और विधानसभा अध्यक्ष के चुनाव का बॉयकाट करेगी। भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष ने कहा है कि हिंसा बंद होने तक प्रतिवाद चलेगा। इधर प्रशासन ने सख्त निर्देश दिया है कि  विधानसभा में नेताओं के सुरक्षाकर्मी प्रवेश नहीं कर सकेंगे। कल शुभेंदु अधिकारी के सुरक्षाकर्मियों के साथ मीडिया वालों की भिड़ंत हुई थी। विधानसभा अध्यक्ष पर विमान बनर्जी के पुनः अध्यक्ष बनने की प्रबल संभावना है।

ममता बनर्जी ने केंद्र के खिलाफ खोला मोर्चा

इधर ममता बनर्जी ने कोरोना को लेकर केंद्र के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। सभी राज्यों को मुफ्त वैक्सीन दिलाने की मांग पर तृणमूल कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। ममता बनर्जी ने दैनिक 550 मिट्रिक टन ऑक्सीजन की मांग करते हुए प्रधानमंत्री को चिट्ठी लिखी है। ममता का कहना है कि बंगाल से आक्सीजन दूसरे राज्यों को जा रहा है, जबकि बंगाल के लोग आक्सीजन के लिए परेशान हैं।

यह भी पढ़ेंः कलकत्ता हाईकोर्ट से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को लगा झटका(Opens in a new browser tab)

- Advertisement -