अब लोकसभा की तैयारियों में जुटेंगे भाजपा के विधायक

0
27
विधायक दल की बैठक में भाजपा के साथ बैठे रालोसपा के सदस्य, एनडीए विधायकों की बैठक बुधवार को

पटना। भाजपा-रालोसपा विधायक दल की बैठक उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी की अध्यक्षता में उनके सरकारी आवास 1, पोलो रोड पटना में सोमवार को सम्पन्न हुई। इसमें सभी विधायकों व विधान परिषद सदस्यों को आगामी लोकसभा चुनाव के मद्देनजर क्षेत्रों में सघन दौरा व जनसम्पर्क कर राज्य व केन्द्र सरकार की उपलब्धियों गिनाने व कार्यों से आम जनता को अवगत कराने का निर्देश दिया गया।  एनडीए विधायकों की बैठक बुधवार को मुख्यमंत्री आवास पर होगी।

उपमुख्यमंत्री ने विधायकों से कहा कि महज दो महीने बाद लोकसभा चुनाव की औपचारिक घोषणा हो जाने के बाद आचार संहिता लागू हो जायेगी। इसलिए लोकसभा चुनाव को केन्द्रित कर सभी विधायक व विधान परिषद सदस्य जनता के बीच जन सम्पर्क अभियान चला कर राज्य व केन्द्र सरकार के कार्यों का प्रचार-प्रसार करें।

- Advertisement -

श्री मोदी ने कहा कि जारी व्हीप के मद्देनजर सभी विधायक दोनों सदनों में कार्यवाही के दौरान मौजूद रहें और मतदान की स्थिति में सरकार के पक्ष में मतदान करें। उन्होंने कहा कि सरकार विपक्ष के हर सवाल का जवाब देने के लिए पूरी तरह तैयार है। उन्होंने अपील की कि विपक्ष नियमानुकूल कार्यवाही के संचालन में सहयोग करे और लोकतांत्रिक मर्यादा को कायम रखे।

सुशील मोदी के ट्वीट

  • यह राम मंदिर आंदोलन की सबसे बड़ी सफलता है कि 1990 में आडवाणी जी की रथयात्रा रोक कर केंद्र की गैरकांग्रेसी सरकार गिराने और देश भर में तनाव का माहौल पैदा करने वाले लालू प्रसाद की पार्टी भी आज जनता की आस्था के विरुद्ध जाकर मंदिर निर्माण का विरोध करने की हैसियत में नहीं है। मंदिर निर्माण और संतों की भावना का आदर करना भाजपा की नीति का हिस्सा है, कोई चुनावी मुद्दा नहीं। राजद यदि मंदिर निर्माण का विरोध नहीं कर रहा है, तो वह इस मुद्दे पर कांग्रेस से अलग लाइन लेने का साहस क्यों नहीं दिखाता?
  • कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट के जजों पर महाभियोग लाने का दबाव बनाकर राम मंदिर मामले की सुनवाई टलवायी, जिससे करोड़ों राम भक्तों और साधु-संतों में आक्रोश बढ़ा। यदि राबड़ी देवी और राजद नेताओं में हिम्मत हो, तो वे अयोध्या की धर्म सभा में लिये गए फैसले का समर्थन करने की घोषणा करें। मंदिर मुद्दे का समर्थन कर राजद रामकाज में बाधा डालने के पाप से मुक्त हो सकता है।

यह भी पढ़ेंः शराबबंदी में जो गड़बड़ी करे उसे सेवा मुक्त कर जेल भेजिएः नीतीश

- Advertisement -