गोपालगंज में पकड़ी गयी हरियाणा निर्मित शराब की खेप

0
50
बिहार
बिहार

गोपालगंज। जिला उत्पाद विभाग की पुलिस ने बलथरी चेकपोस्ट के समीप एनएच 28 से वाहन जांच के क्रम में एक ट्रक शराब के साथ तस्कर को गिरफ्तार किया। पकड़ा गया तस्कर हरियाणा का मो. शमीम है। उसके खिलाफ उत्पाद अधिनियम के तहत प्राथमिकी दर्ज कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

उत्पाद अधीक्षक प्रियरंजन ने बताया कि उन्हें सूचना मिली थी कि एनएच 28 के रास्ते भारी मात्रा में शराब की खेप बिहार आने वाली है। सूचना मिलते ही उन्होंने अपने नेतृत्व में एक टीम का गठन किया व बलथरी चेकपोस्ट के समीप एनएच 28 पर नाकाबंदी कर वाहनों की जांच शुरू कर दी। उत्पाद पुलिस अभी वाहनों की जांच कर रही रही थी कि यूपी के तरफ से एक हरियाणा नंबर का ट्रक आता दिखाई दिया। टीम के सदस्यों ने शक के आधार पर ट्रक चालक को रूकने का इशारा किया।

- Advertisement -

पहले तो ट्रक चालक हड़बड़ाया, बाद में पुलिस से घिरता देख ट्रक को रोक दिया। ट्रक रूकने के बाद उत्पाद पुलिस ने ट्रक पर लादी गई सामग्री की जांच-पड़ताल शुरू कर दी। पहले तो पुलिस को अंग्रेजी दवाएं मिलीं, लेकिन दवा के बाद देखा गया तो पूरे ट्रक में शराब लोड की गयी थी। शराब दिखाई देते ही उत्पाद पुलिस ने तस्कर को हिरासत में ले लिया।

छापेमारी के दौरान ट्रक से हरियाणा निर्मित रॉयल स्टेग ब्रांड की 42 सौ बोतलें बरामद की गयी हैं। पुलिस ने ट्रक व शराब को जब्त कर लिया है। पकड़ा गया शराब तस्कर उत्पाद पुलिस के समक्ष स्वीकार किया कि हरियाणा के पानीपत से शराब लेकर वह कोलकाता जा रहा था। उसे इस बात का अनुमान नहीं था कि बिहार में ट्रक पकड़ लिया जायेगा। छापेमारी दल में उत्पाद इंस्पेक्ट रंजन प्रसाद, उत्पाद अवर निरीक्षक दीपक कुमार सिंह के अलावे भारी संख्या में उत्पाद सिपाही व सैप बल शामिल थे।

यह भी पढ़ेंः शराब वजह बनी विधायक बीमा भारती के बेटे की जान जाने की!

बता दें कि बिहार में पहुंचने वाली शराब की अधिकतर खेप हरियाणा निर्मित शराब की होती है। चूंकि हरियाणा में शराब टैक्स में छूट के कारण सस्ती है, इसलिए तस्कर नजदीक के उत्तर प्रदेश की बजाय हरियाणा से शराब मंगाना पसंद करते हैं।

- Advertisement -