मोतीहारी में गले में फंदा डाल एक ही परिवार के 4 की मौत

0
71

मोतीहारी/ बेगूसराय/ आरा। चकिया थाना क्षेत्र के छोटा वैशाहा गाँव में एक महिला अपने तीन अबोध बच्चों सहित फंदे से लटकते मिली। बेगूसराय में एक की गोली मार कर हत्मृया हुई तो आरा जेल में फर्तजी डाक्टर धराया। मोतीहारी के चकिया में महिला छोटा वैशाहा निवासी दिलीप सहनी की पत्नी धनपति देवी सहित उसके तीन मासूम बच्चे संध्या (6 वर्ष), अवधेश (4 वर्ष) और एक चार माह का नवजात शामिल है। घटना शुक्रवार की देर शाम की बताई जाती है।

बताया जाता है कि मृत महिला ने पहले अपने बच्चों के गले मे फंदा लगा कर लटका दिया। उसके बाद खुद गले मे फंदा लगा कर झूल गई। घटना के बाद मृत  महिला की सास मधु देवी ने रोते बिलखते बताया कि जब उसने देखा तो सभी फंदे से लटकते मिले। शोर मचाने पर ग्रामीणों के सहयोग से सभी को नीचे उतारा गया। मृत महिला का पति नागालैंड के कोहिमा मे मजदूरी करता है। सूचना पर पहूंची पुलिस ने चारों शवों को कब्जे मे लेकर पोस्टमार्टम के लिए मोतिहारी भेज दिया।

- Advertisement -

मौके पर पहूंचे एसपी उपेन्द्र शर्मा ने घटनास्थल  का मुआयना कर पुछताछ की। एसपी उपेन्द्र ने बताया कि प्रथम दृष्टया मामला खुदकुशी का प्रतीत होता है। उन्होंने कहा कि घटना के कारणों का खुलासा पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही होगा।

 बेगूसराय में युवक को गोली मार कर हत्या

बेगूसराय से मिली सूचना के मुताबिबक थाना क्षेत्र के मेघौल पंचायत अंतर्गत मलमल्ला- कुम्भी पथ पर शुक्रवार की देर शाम बाईक पर सवार तीन अज्ञात बदमाशों ने एक किशोर की गोली मारकर हत्या कर दी। मृत किशोर की पहचान मेघौल पंचायत के मलमल्ला गांव निवासी नाथो दास का 15 वर्षीय पुत्र राहुल कुमार के रुप में की गई। गोलीबारी की आवाज सुनकर पहुंचे ग्रामीणों ने खून से लथपथ किशोर को इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र खोदावंदपुर पहुंचाया। जहां डाक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

परिजनों ने बताया कि मृतक राहुल गांव से पूरब बहियार स्थित बोडिंग को देखने जा रहा था। तभी अज्ञात बदमाशों ने उसे गोली मार दी। जिससे उसकी मौत घटनास्थल पर ही हो गई। घटना की सूचना मिलते ही थानाध्यक्ष रंजन कुमार ने दलबल के साथ घटनास्थल पर पहुंच कर मामले की छानबीन में जुट गए तथा शव को अपने कब्जे में लेकर पीएचसी भेज  दिया। मृतक राहुल तीन भाई में सबसे छोटा था। इसकी हत्या से मां विमल देवी, पिता नाथो दास, भाई सुशील कुमार, रोहित कुमार का रोते रोते बुराहाल है। परिजनों ने बताया कि कमाउ किसान था। इसकी किसी से कोई दुश्मनी नहीं थी। किसने गोली मार कर हत्या की, यह समझ में नहीं आता। इस संबंध में थानाध्यक्ष रंजन कुमार ने बताया कि मामले की गहन जांच पड़ताल की जा रही है।

दिल्ली के डाक्टर के कागजात पर बन बैठा आरा जेल में फर्जी चिकित्सक

आरा की सूचना के मुताबिक जेल के फर्जी डाक्टर के कारनामे का पूरा सच शुक्रवार को सामने आ गया। उसके द्वारा किए गये कारनामे काफी चौंकाने वाले हैं। उसने दिल्ली के एक डाक्टर धीरज कुमार उर्फ धीरू की डिग्री के आधार पर फर्जी नौकरी हथिया ली थी। बैंक एकाउंट भी उसी डाक्टर के नाम पर खोल रखा था। इसका खुलासा जिला प्रशासन की टीम की जांच में हुआ है। इसके बाद जेल अधीक्षक निरजंन पंडित के बयान पर टाउन थाना में प्राथमिकी दर्ज करा दी गयी। अब पुलिस उस फर्जी डाक्टर की पहचान व उस तक पहुंचने में जुट गयी है।

अब तक की जांच में जो बात सामने आयी है। उसके अनुसार डाक्टर धीरज कुमार धीरू दिल्ली के सफदरगंज अस्पताल में पोस्टेड हैं। बिहार के मसौढ़ी के रहने वाले डा. धीरू बिहार दरभंगा मेडिकल कॉलेज से डिग्री हासिल की है। जालसाज ने उनकी डिग्री को स्कैन कर लिया। इसके बाद उसी डिग्री के आधार पर जेल में डाक्टर बन बैठा। बैंक एकाउंट तक उसने डाक्टर धीरू के कागजात पर ही खोल लिया है।

यह भी पढ़ेंः दाह संस्कार के लिए लाश लेकर जा रहे थे, खुद लाश बन कर लौटे 2 लोग

देश की राजधानी दिल्ली के जिस डाक्टर के नाम पर फर्जी चिकित्सक आरा जेल में नौकरी करता रहा। उस डाक्टर धीरज कुमार धीरू ने आजतक जेल में नौकरी के लिए आवेदन ही नहीं दिया है। इसे सुन जेल व जिला प्रशासन के अफसर भी सकते में आ गये। हुआ यह कि फर्जी डाक्टर का मामले सामने के बाद टीम जांच करने जेल पहुंची थी। तब कागजातों की जांच में धीरज कुमार धीरू का डिटेल्स मिला। उस आधार पर अफसरों ने उनसे संपर्क किया। पूछताछ में उन्होंने सफदरगंज अस्पताल में तैनात होने की बात कही। अफसरों ने कहा कि आपके नाम पर आरा जेल में नौकरी की जा रही है। इस पर उस डाक्टर का भी माथा ठनक गया। उन्होंने कहा कि आज तक जेल के लिए आवेदन ही नहीं किया है। फिर जेल में नौकरी करने की बात कहां से आयी। मामले की सच्चाई जानने के लिए अफसरों ने दोनों डाक्टरों के फोटो का मिलान भी किया। इस दौरान फोटों में अंतर पाया गया। इसके बाद मामला पूरी तरह स्पष्ट हो गया।

यह भी पढ़ेंः बिहार में मर्डर..मर्डर..मर्डर, वैशाली में फिर गोली मार कर हत्या

- Advertisement -