शिक्षक पात्रता परीक्षा में सफल छात्र-छात्राओं का हुआ सम्मान

0
182
शिक्षक पात्रता परीक्षा की तैयारी कराने वाले सबसे बड़े संस्थान टीचर्स सेलेक्ट एकैडमी ने इस बार बिहार में शिक्षक पात्रता परीक्षा में सफल छात्रों का सम्मान किया।
शिक्षक पात्रता परीक्षा की तैयारी कराने वाले सबसे बड़े संस्थान टीचर्स सेलेक्ट एकैडमी ने इस बार बिहार में शिक्षक पात्रता परीक्षा में सफल छात्रों का सम्मान किया।

पटना। शिक्षक पात्रता परीक्षा की तैयारी कराने वाले सबसे बड़े संस्थान टीचर्स सेलेक्ट एकैडमी ने इस बार बिहार में शिक्षक पात्रता परीक्षा में सफल छात्रों का सम्मान किया। सम्मान समारोह बोरिंग केनाल रोड पंचमुखी महावीर मंदिर के पास एकैडमी के सेंटर में आयोजित हुआ, जिसमें बिहार शिक्षक पात्रता परीक्षा में उत्तीर्ण संस्थान के 500 से ज्यादा छात्र-छात्राओं को सम्मानित किया गया।

इस अवसर पर संस्थान के निदेशक डॉ गुफरान आलम असिस्टेंट प्रोफेसर पटना विश्वविद्यालय सेंटर, हेड मो ओवैश, डायरेक्टर नाहिदा जमाल, वरिष्ठ पत्रकार राकेश रमन, अजय कुमार मिश्रा, फिल्म सेंसर बोर्ड कोलकाता रीजन एडवाइजरी कमेटी के सदस्य अनूप नारायण सिंह, अरनव मीडिया के अनुराग सिंह तथा शिक्षाविद पुष्पराज शामिल थे।

- Advertisement -

इस अवसर पर छात्रों को संबोधित करते हुए डॉ गुफरान आलम ने कहा कि यह सफलता छात्रों के कठिन परिश्रम तथा संस्थान के शिक्षकों के उचित मार्गदर्शन से ही संभव हो पायी है। आगे भी संस्थान अपनी इस उपलब्धि में उत्तरोत्तर वृद्धि करेगा। उन्होंने कहा कि उनके संस्थान में आर्थिक रूप से कमजोर छात्रों के लिए विशेष छूट की भी व्यवस्था की गई है।

नाहिदा जमाल ने कहा कि शिक्षक राष्ट्र के गौरव होते हैं। शिक्षक पात्रता परीक्षा के लिए उनके संस्थान के दोनों सेंटरों पर विशेष की व्यवस्था की गई है, जहां से शत-प्रतिशत सफलता छात्र-छात्राओं को मिली है। उन्होंने  कहा कि शिक्षक पात्रता परीक्षा में इस बार उनके संस्थान ने पुराने सभी रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। आगे की परीक्षाओं के लिए विशेष रणनीति के तहत विशेष बैच आयोजित किए गए हैं।

इस अवसर पर बतौर मुख्य अतिथि वरिष्ठ पत्रकार राकेश रमन  ने कहा कि शिक्षकों का दायित्व है कि राष्ट्र की प्रगति के लिए नई पीढ़ी को शिक्षित करें। संस्थान द्वारा किया जा रहा कार्य काफी बेहतर है। कोलकाता फिल्म सेंसर बोर्ड रीजनल कमेटी के सदस्य अनूप नारायण सिंह ने कहा कि शिक्षक पात्रता परीक्षा पास करने वाले छात्र-छात्राओं पर शिक्षा का अलख जगाने की जिम्मेवारी है। जिससे छात्र समाज, राज्य, राष्ट्र का नाम रौशन कर सकें। अतिथियों का स्वागत सेंटर हेड मोहम्मद ओवैस ने किया

- Advertisement -