राष्ट्रकवि दिनकर की धरती सिमरिया में दिसंबर में साहित्य का महा कुंभ

0
220
  • बेगूसराय से नंदकिशोर सिह

बिहार के बेगूसराय जिला में राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर की धरती सिमरिया धाम के प्रांगण में 5 माह के बाद 1 से 9 दिसंबर तक विश्व साहित्य सम्मेलन के साथ रामकथा का आयोजन किया गया है। इस विश्व साहित्य सम्मेलन में 153 देशों के  साहित्यकार और विद्वत जन राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर की धरती को नमन करने यहां पर पधारेंगे।

इस कार्यक्रम में देश के प्रसिद्ध राम कथा वाचक मुरारी बापू द्वारा 8 दिनों तक लगातार दिन में अमृतवाणी कथा होगी। इस आयोजन समिति के सदस्य पूर्व विधायक ललन कुंवर ने इसकी जानकारी एक भेंटवार्ता के दौरान दी। उन्होंने बताया कि इस कार्यक्रम की अध्यक्षता जम्मू कश्मीर के राजा कर्ण सिंह के पुत्र  करेंगे। उन्होंने बताया कि विश्व साहित्य सम्मेलन का उद्घाटन पीएम नरेंद्र मोदी से कराये जाने की संभावना है। उद्घाटन 1 दिसंबर को होगा।

- Advertisement -

पीएम मोदी के साथ 8 राज्यों के  राज्यपालों और मुख्यमंत्रियों की भी समारोह के उद्घाटन सत्र के दिन उपस्थिति की स्वीकृति मिली है। इस कार्यक्रम में देश के प्रसिद्ध बॉलीवुड के महानायक अमिताभ बच्चन, हेमा मालिनी के अलावा कई अन्य फिल्मी हस्तियों के भी शिरकत करने की संभावना उन्होंने जतायी।

कार्यक्रम की तैयारी को लेकर आयोजन समिति के अध्यक्ष विपिन कुमार ईश्वर की पूरी टीम युद्ध स्तर से दिन-रात जुटी हुई है। ऐसा माना जा रहा है कि राष्ट्र कवि रामधारी सिंह दिनकर की इस पवित्र धरती पर पूरे देश के कोने-कोने से साहित्यकार जुटेंगे। रामकथा सुनने के लिए लगभग एक करोड़ से अथिक भक्तों को जुटाने की तैयारी है। इस अवसर पर कवि सम्मेलन की भी तैयारी चल रही है।

पवित्र  गंगा तट सिमरिया धाम में हजारों एकड़ जमीन में श्रद्धालुओं के बैठने के लिए पंडाल और पीएम, राज्यपाल व सीएम के आगमन के मद्देनजर कम से कम तीन हैलीपैड सभा स्थल पर बनाए  जाएंगे। आयोजन समिति के लोगों ने बताया कि राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से भी आयोजन समिति के लोगों ने मिलकर इस कार्यक्रम में भाग लेने के लिए उन्हें आमंत्रण  दिया है। अगर राष्ट्रपति  महोदय के कर कमलों द्वारा सम्मेलन का उद्घाटन हो जाता है तो राष्ट्रकवि रामधारी सिंह दिनकर की धरती सिमरिया धाम उस दिन धन्य हो जाएगी। हालांकि अभी तक राष्ट्रपति महोदय के आगमन की पुष्टि नहीं हुई है।

- Advertisement -