बीजेपी का आरोप, संकट में भी झूठ बोल रहे कांग्रेस के युवराज राहुल

0
49
बीजेपी का आरोप है कि कोरोना वायरस से उत्पन्न हुए संकट की इस घड़ी में कांग्रेस के युवराज राहुल गांधी झूठ बोलने से बाज नहीं आ रहे हैं। बिहार प्रदेश उपाध्यक्ष राजीव रंजन ने यह आरोप लगाया है
बीजेपी का आरोप है कि कोरोना वायरस से उत्पन्न हुए संकट की इस घड़ी में कांग्रेस के युवराज राहुल गांधी झूठ बोलने से बाज नहीं आ रहे हैं। बिहार प्रदेश उपाध्यक्ष राजीव रंजन ने यह आरोप लगाया है
भाजपा के बिहार प्रदेश उपाध्यक्ष राजीव रंजन
भाजपा के बिहार प्रदेश उपाध्यक्ष राजीव रंजन

पटना। बीजेपी का आरोप है कि कोरोना वायरस से उत्पन्न हुए संकट की इस घड़ी में कांग्रेस के युवराज राहुल गांधी झूठ बोलने से बाज नहीं आ रहे हैं। पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर कोरोना संकट में भी झूठ बोलने का आरोप लगाते हुए बीजेपी के बिहार प्रदेश उपाध्यक्ष राजीव रंजन ने कहा कि राहुल जी के माथे पर झूठ और दुष्प्रचार की राजनीति इस कदर घर कर गयी है कि कोरोना महामारी की इस भीषण आपदा में भी वह जनसेवा की बजाए झूठ बोल कर काम चला रहे हैं। पिछले दिनों इनकी टीम ने भीलवाड़ा के ग्रामीणों द्वारा कोरोना के खिलाफ किए गये कामों का श्रेय राहुल को देने की भरपूर कोशिश की थी, जिसका खंडन खुद वहां की महिला सरपंच ने किया था।

झूठ पकड़े जाने पर शर्मिंदा होने की बजाए ये लोग राहुल के संसदीय क्षेत्र वायनाड की तारीफ करने लगे। कांग्रेस रचित इस झूठ को बढ़ाते हुए पिछले दिनों राहुल ने भी केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा वायनाड में हुए कामों की तारीफ करने का दावा किया, जबकि हकीकत इसके ठीक विपरीत है।  स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार, वायनाड उन क्षेत्रों में से है, जिन्हें कोरोना वायरस के हॉट्सपॉट में क्लस्टर सूची में रखा गया है, जो रेड जोन से सिर्फ एक पायदान नीचे की श्रेणी है। यह क्षेत्र अभी भी व्हाइट जोन में नहीं आ पाया है। कांग्रेस बताये कि जब वायनाड के हालत कोरोना मामले में बहुत सुधरे हुए नहीं हैं तो राहुल गांधी किन आधारों पर अपने मुंह मियां मिठ्ठू बन रहे हैं?”

- Advertisement -

बीजेपी उपाध्यक्ष ने कहा कि राहुल गांधी की वाहवाही कराने के लिए कांग्रेस का आईटी सेल लगातार नए-नए प्रयोग करता रहता है। कई बार इनका झूठ पकड़ा भी गया है, लेकिन बावजूद इसके, इनमें सुधार के कोई लक्षण दिखाई नहीं पड़ते हैं। गोयबल्स की नीति के तहत पहले यह एक माध्यम से झूठ को फैलाते हैं, फिर सैकड़ों अन्य हैंडल्स से उस झूठ को प्रचारित करने में लग जाते हैं। इनकी कोशिश रहती है कि झूठ को इतना बोलो कि जनता को सच लगने लगे।

यह भी पढ़ेंः लाक डाउन में मेडिकल, पुलिस, स्वीपर व बैंकर्स की भूमिका को सराहा

अब भी ये जनसेवा की बजाए वह सारे काम कर रहे हैं, जिससे कोरोना के खिलाफ चल रही यह जंग कमज़ोर पड़े और राहुल जी को राजनीतिक फायदा मिलने में आसानी हो। वास्तव में झूठ के सहारे अपने नेता का यशोगान करने के चक्कर में कांग्रेसियों ने उनकी साख को ही बर्बाद कर दिया है। बहरहाल कांग्रेस यह जान ले कि जनता राहुल जी को चौकीदार चोर है से राफेल के मसले तक, कई बार झूठ बोल कर, माफी मांगते देख चुकी है और अब राहुल जी अगर गंगा में खड़े होकर भी सच बोलने का दावा करें तो भी जनता उनका विश्वास नहीं करने वाली।

यह भी पढ़ेंः BJP का दावा- कोरोना के आगे चट्टान की तरह डटा हुआ है भारत

- Advertisement -