पीएम पैकेज की तीन प्रमुख सड़क परियोजनाओं को मिली मंजूरी

0
170
भाजपा का पटना साहिब में 11 से घर-घर संपर्क अभियान। नंद किशोर यादव ने दिया टास्क
भाजपा का पटना साहिब में 11 से घर-घर संपर्क अभियान। नंद किशोर यादव ने दिया टास्क
  • मुंगेर से मिर्जा चैकी वाया भागलपुर बनेगी 124 किमी लंबी सड़क
  • अडलबारी से साहेबगंज वाया मानिकपुर पथ का होगा निर्माण
  • सीवान से मशरख होते सत्तरघाट चकिया तक बनेगी सड़क
  • प्रोजेक्ट के लिए भू-अर्जन का काम पूरा करने का निर्देश
  • बख्तियारपुर-मोकामा सड़क के मजबूतीकरण की स्वीकृति

पटना। पीएम पैकेज की तीन प्रमुख सड़क परियोजनाओं को बिहार सरकार ने मंजूरी दे दी है। पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव ने जानकारी दी। उन्होंने कहा है कि राज्य में सड़क के आधारभूत ढांचे को और अधिक सुदृढ़ बनाने के लिए भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने सूबे की तीन प्रमुख सड़क परियोजनाओं के लिए भू-अर्जन की स्वीकृति प्रदान की है।

श्री यादव ने आज यहां बताया कि मुंगेर से भागलपुर होते हुए मिर्जा चैकी 124 किमी लम्बा 60 मीटर चौड़ा ग्रीनफील्ड 4 लेन पथ का निर्माण किया जाना है। इसके लिए मुंगेर जिले के 36 एवं भागलपुर जिले के 92 ग्रामों में भू-अर्जन का काम प्रारम्भ कर दिया गया है। अगले चार माह में भू-अर्जन का काम पूरा करने का प्रयास किया जा रहा है, ताकि निविदा प्रक्रिया प्रारम्भ की जा सके। यह पथ वर्तमान मुंगेर-भागलपुर रोड के दक्षिण लगभग 3-5 किमी से बनायी जानी है।

- Advertisement -

श्री यादव ने बताया कि इसी प्रकार उत्तर बिहार में अडलबारी से मानिकपुर होते हुए साहिबगंज तक 45 मीटर चौड़ा 4 लेन पथ का निर्माण किया जायेगा, जिसे केसरिया होते हुए अरेराज तक बनाया जाएगा। इसके लिए भू-अर्जन की प्रारम्भिक कारवाई शुरू हो गयी है। सीवान से मशरख होते हुए सत्तर घाट चकिया तक 83 किमी लंबी सड़क बननी है, जो 30 से 45 मीटर चौड़ी और दो व चार लेन की होगी।

यह पथ सीवान से मशरख तक 4 लेन होगा एवं उसके आगे 10 मीटर चौड़ा होगा। इसके भू-अर्जन हेतु प्रारम्भिक कारवाई शुरू हो गयी है। राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण ने पटना जिले के बख्तियारपुर-मोकामा पुरानी सड़क के मजबूतीकरण की भी मंजूरी दे दी है। इसके लिए निविदा प्रक्रिया प्रारंभ हो रही है।

श्री यादव ने केंद्र सरकार के इस निर्णय के प्रति आभार प्रकट करते हुए कहा कि पीएम पैकेज की सभी 75 परियोजना पर प्रगति हो रही है। उन्होंने भू-अर्जन कार्य को मिशन मोड में पूर्ण करने का संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिया है।

यह भी पढ़ेंः कोविड ने नीतीश कुमार को कठघरे में खड़ा कर दिया है

- Advertisement -