जय श्रीराम और मोदी-मोदी के नारों से गूंजा कोलकाता का ब्रिगेड परेड ग्राउंड

0
231
बंगलादेश की मान्यता के लिए जनसंघ ने आन्दोलन किया था, यह सच है। मेरे कई मित्र दिल्ली के सत्याग्रह में शामिल भी हुए थे। संभव है कि नरेंद्र मोदी भी उसमें शामिल हुए हों।
बंगलादेश की मान्यता के लिए जनसंघ ने आन्दोलन किया था, यह सच है। मेरे कई मित्र दिल्ली के सत्याग्रह में शामिल भी हुए थे। संभव है कि नरेंद्र मोदी भी उसमें शामिल हुए हों।

पीएम नरेंद्र मोदी ने बंगाल को बदलने के लिए मांगे पांच साल

कोलकाता। जय श्रीराम और मोदी-मोदी के नारों से कोलकाता का ब्रिगेड परेड ग्राउंड आज गूंज उठा। पीएम नरेंद्र मोदी ने आज यहां जनसफा को संबहोधित किया। ब्रिगेड परेड ग्राउंड तक पहुंचने वाले सड़कें वाहनों और भाजपा समर्थकों से खचाखच भरी थीं। नरेंद्र मोदी ने बंगाल को बदलने के लिए पांच साल का वक्त मांगा है। बंगाल के लिए केंद्रीय सहायता की सूची गिनायी और कहा कि चाय बागान से लेकर खेती तक बंगाल में भाजपा की सरकार बनने पर परिवर्तन साफ नजर आयेगा। मोदी कोलकाता के बिग्रेड परेड ग्राउंड में जनसभा को संबोधित कर रहे थे। मोदी की जनसभा में जुटी भीड़ से वे काफी उत्साहित दिखे।

पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि दूसरे राजनीतिक दलों की तरह केवल चुनाव के समय ही नहीं, हम  हमेशा बंगाल के लोगों के साथ रहेंगे।  बंगाल के युवाओं को काम के लिए बंगाल के बाहर जाना नहीं होगा।  बॉर्डर से  बांग्लादेशी घुसैपठ पूरी तरह रोक कर बंगाल को सुरक्षा प्रदान किया जाएगा। उन्होंने यह भी बताया कि  बंगाल में परिवर्तन होकर रहेगा। बंगाल की त्रिस्तरीय पंचायत व्यवस्था में परिवर्तन होगा। पुलिस प्रशासन से  लेकर हर सरकारी जगह पर  पारदर्शिता लाई जाएगी।

- Advertisement -

उन्होंने यह भी भरोसा दिलाया कि  बंगाल को सिटी ऑफ जॉय से सिटी ऑफ फ्यूचर बनाया जाएगा। उन्होंने लोगों को भरोसा दिलाया कि  भाजपा की सरकार के मंत्री ही हर एक झोपड़ी को पक्का बना कर देंगे। उन्होंने हर घर में पानी पहुंचाने का भी वादा किया। किसान और महिलाओं के विकास पर जोर देने की बात कही।

उन्होंने लोगों को यह भी भरोसा दिलाया कि बंगाल में तुष्टिकरण की राजनीति बंद होगी और सबके साथ सबका विकास होगा। कांग्रेस और वामपंथियों पर तंज कसते हुए मोदी ने कहा कि एक समय वामपंथी कांग्रेस  का काला हाथ तोड़ने की बात करते थे। आज वामपंथियों को वही हाथ सफेद  कैसा दिखने लगा। दीदी की स्कूटी पॉलिटिक्स पर तंज कसते हुए कहा कि  दीदी तो  भवानीपुर तक न गिरते हुए पहुंच गईं, लेकिन उनीका स्कूटी का एक्सीडेंट जरूर नंदीग्राम में हो जाएगा।

नरेंद्र मोदी के भाषण के दौरान भाजपा समर्थक जय श्रीराम और मोदी-मोदी के नारे लगाते रहे। मोदी ने संबोधन से लेकर अंत तक कई बार बांग्ला में अपनी बातें रखीं। इस पर खूब तालियां बजीं और जय श्रीराम व मोदी-मोदी के नारे लगते रहे।मोदी की आज की सभा में मिथुन चक्रवर्ती भी शामिल हुए। पारंपरिक बंगाली पहनावे में वे आये थे। पूर्व क्रिकेट कप्तान सौरभ गांगुली को सभा में लाने की पूरी कोशिश की गयी, लेकिन वे नहीं आये। उन्हें समझाने के लिए कल देर रात तक शुभेंदु अधिकारी उनके घर पर डटे रहे। दूसरे नेताओं ने भी पूरी कोशिश की, लेकिन सौरभ ने फैसला नहीं बदला।

- Advertisement -