कोफी अन्नान के निधन पर नीतीश कुमार ने जताया शोक

0
79

पटना। मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार ने संयुक्त राष्ट्र के पूर्व महासचिव और नोबेल शांति पुरस्कार से सम्मानित कोफी अन्नान के निधन पर गहरी शोक संवेदना व्यक्त की है। मुख्यमंत्री ने अपने शोक संदेश में कहा कि कोफी अन्नान अंतर्राष्ट्रीय शांति और सुरक्षा के प्रबल हिमायती थे। उनके निधन से दुनिया ने एक महान अफ्रीकी राजनयिक और मानवतावादी शख्सियत को खो दिया है।

मुख्यमंत्री ने दिवंगत आत्मा की चिर शान्ति तथा उनके परिजनों एवं समर्थकों को दुःख की इस घड़ी में धैर्य धारण करने की शक्ति प्रदान करने की ईश्वर से प्रार्थना की है।

- Advertisement -

संयुक्त राष्ट्र के पूर्व महासचिव और शांति के दूत कोफी अन्नान का शनिवार को निधन हो गया। समाचार एजेंसी ने संयुक्त राष्ट्र की ओर से दी गयी जानकारी के आधार पर ट्वीट किया कि संयुक्त राष्ट्र के महासचिव 80 वर्षीय कोफी अन्नान का निधन हो गया। कोफी अन्नान ने बुतरस घाली के बाद संयुक्त राष्ट्र के सातवें महासचिव के रूप में अपना योगदान दिया था। अन्नान का जन्म 8 अप्रैल, 1938 को घाना के कुमसी नामक स्थान में हुआ था।

कोफी अन्नान 1962 से 1974 तक और 1974 से 2006 तक संयुक्त राष्ट्र में कार्यरत रहे। वे 1 जनवरी, 1997 से 31 दिसंबर 2006 तक दो कार्यकालों के लिए संयुक्त राष्ट्र के महासचिव रहे। उन्हें संयुक्त राष्ट्र के साथ 2001 में नोबेल शांति पुरस्कार से सह-पुरस्कृत किया गया। 1954 से 1957 तक कोफी अन्नान ने मफिन्तिस्म स्कूल में शिक्षा ली। अन्नान 1957 में फोर्ड फाउंडेशन की दी छात्रावृत्ति पर अमेरिका गये। वहां 1958 से 1961 तक उन्होंने मिनेसोटा राज्य के संत पॉल शहर में मैकैलेस्टर कॉलेज में अर्थशास्त्र की पढ़ाई की और 1961 में उन्हें स्नातक की डिग्री हासिल की।

यह भी पढ़ेंः बेईमान संयुक्त राष्ट्र और बेईमान पत्रकारिता को धिक्कार है…

कोफी अन्नान के निधन की सूचना फैलते ही शोक संवेदनाओं का तांता लगा हुआ है। कई राष्ट्राध्यक्षों ने शोक प्रकट किया है।

- Advertisement -